अच्छे नंबर देने का ऑफर देकर 12वीं कक्षा की छात्राओं को फोन पर छेड़ता था अश्लील शिक्षक

School girls: जिला शिक्षा अधिकारी ने आनन फानन में मामले की जांच के लिए संबंधित बीईओ को दिया आदेश

By: Murari Soni

Published: 08 Dec 2019, 01:39 PM IST

तुमला. जिले के एक सरकारी स्कूल की छात्राओं ने अपने स्कूल के एक शिक्षक पर परीक्षा में उत्तीर्ण करने और अच्छे अंक देने के नाम पर शारीरिक संबंध बनाने के लिए दबाव डालने का गंभीर आरोप लगाया है। इतना ही नहीं छात्रों ने भी विवादों के घेरे में आए इस शिक्षक पर मुर्गा और रूपए मांगने का आरोप लगाया है।
शनिवार को मामले के उजागर होने के बाद शिक्षा विभाग में हडक़ंप मचा हुआ है। जिला शिक्षा अधिकारी एन कुजूर ने आनन फानन में मामले की जांच के लिए संस्था के प्राचार्य और फरसाबहार के विकास खण्ड शिक्षा अधिकारी को दिया है। हैदराबाद और उन्नव बलात्कार कांड के बाद देश भर में मचे बवाल के बीच, उजागर हुए इस मामले से जिले के शिक्षा विभाग ही नहीं प्रशासनिक अधिकारियों के भी होश उड़े हुए है।
मामला जिले के तुमला थाना क्षेत्र के एक शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूल की है। इस स्कूल में शनिवार को उस वक्त हडक़ंप मच गया, जब सुबह स्कूल में प्रार्थना के बाद कक्षा 12 वीं की छात्राएं व छात्र इस स्कूल के प्राचार्य के पास पहुंच गए। इन लोगों ने शिक्षक राजेश भारद्वाज के खिलापु शिकायत करते हुए बताया कि उक्त शिक्षक अपने काल खण्ड में केवल कुछ ही छात्रों पर ध्यान देते हैं।
पढ़ाने के बजाय अनावश्यक बातचीत करके काल खण्ड का समय गुजार देते हैं। छात्रों ने शिकायत करते हुए बताया कि शिक्षक राजेश भारद्वाज उनसे 2 किलो मुर्गा और रूपए की मांग करते हैं। मांग पूरी ना किए जाने पर कक्षा में उनकी बेइज्जती करके, कक्षा के पीछे के डेस्क में भेज देते हैं। साथ ही प्रायोगिक परीक्षा में अच्छे अंक ना देने और फेल करने की धमकी देकर मानसिक रूप से प्रताडि़त करते रहते हैं। शिक्षक की हरकत से भडक़ी छात्राओं ने प्राचार्य को बताया कि शिक्षक राजेश भारद्वाज ने उनका मोबाइल नम्बर उनसे ले लिया है। फोन पर कॉल करके उनसे शरीरिक संबंध बनाने के लिए दबाव बनाता है। मांग पूरी ना होने पर फेल करने की धमकी देता है।
सारी हदें हुई पार तब छात्राओं ने की शिकायत
पीडि़त छात्र-छात्राओं का आरोप था कि गत सप्ताह भर से शिक्षक ने प्रताडऩा की सारी हदें पार कर दी थी। इसलिए उन्हें मजबूर हो कर सामने आना पड़ा। शिकायत सामने आते ही संस्था में हडक़ंप मच गया। प्राचार्य ने आनन-फानन में स्कूल में एक बैठक का आयोजन किया। इस बैठक में स्कूल के शिक्षकों के साथ पंचायत के कुछ सदस्य भी मौजूद थे। प्राचार्य ने छात्र-छात्राओं द्वारा किए गए शिकायत की जानकारी देते हुए, उनसे सलाह मांगी। इस चर्चा के बाद प्राचार्य ने संबंधित शिक्षक को कारण बताओ नोटिस जारी करने का निर्णय लिया। स्कूल से निकल कर पीडि़त छात्र और छात्राएं सीधे तुमला थाना पहुंच गए। यहां उन्होंने थाना प्रभारी से मुलाकात कर शिक्षक की करतूत की लिखित में शिकायत करते हुए कार्रवाई की मांग की। शिकायत पर थाना प्रभारी एसआई गोविंद साहू ने बताया कि मामले में शिकायत मिली है। शिकायत की जांच की जा रही है। इधर मामला उजागर होते ही शिक्षा विभाग में हडक़ंप मच गया है।
जांच रिपोर्ट के बाद सख्त कार्रवाई का भरोसा
जिला शिक्षा अधिकारी एन कुजूर ने फोन करके संस्था के प्राचार्य से पूरे मामले की जानकारी लेकर, समय रहते कार्रवाई ना करने को लेकर जमकर फटकार लगाई। उन्होंने मामले को बेहद गंभीर बताते हुए, पीडि़त छात्र और शिक्षकों का बयान लेकर, रिपोर्ट भेजने का निर्देश दिया है। साथ ही फरसाबहार के विकास खण्ड शिक्षा अधिकारी बरसाय पैंकरा को पूरे मामले की जानकारी लेकर जांच करने का आदेश भी दिया है। डीईओ एन कुजूर ने मामले को बेहद गंभीर बताते हुए कहा कि जांच रिपोर्ट आने के बाद मामले में सख्त कार्रवाई की जाएगी। जिले में शिक्षा विभाग में छात्र-छात्राओं से अनुचित व्यवहार की शिकायतें लगातर उजागर हो रही है।
&मामले में पीडि़त छात्र.छात्राओं की शिकायत मिली है। शिकायत की जांच के लिए पुरसाबहार के बीईओ को निर्देश दिया गया है। साथ ही संस्था के प्राचार्य से भी रिपोर्ट मांगी गई है। जांच रिपोर्ट आने के बाद मामले में सख्त कार्रवाई की जाएगी।
एन कुजूर, जिला शिक्षा अधिकारी, जशपुर

Show More
Murari Soni
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned