कुछ महीनों में चुनाव हैं, बनाओ हमारी सरकार, हम लागू करेंगे पेसा, वनाधिकार

कुछ महीनों में चुनाव हैं, बनाओ हमारी सरकार, हम लागू करेंगे पेसा, वनाधिकार

Anil Kumar Srivas | Publish: May, 18 2018 11:42:58 AM (IST) Bilaspur, Chhattisgarh, India

क्या अमीर लोगों का कर्जा माफ करने से उनकी आदत खराब नहीं होती? किसानों की ही आदत खराब होती है?

बिलासपुर . कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी गुरुवार को मरवाही विधान सभा के कोटमी (पेन्ड्रा ) में कहा कि यदि 2019 में कांग्रेस की सरकार आई तो 10 दिन के भीतर किसानों का सारा कर्ज माफ कर दिया जाएगा। उन्होने कहा कि कांग्रेस की सरकार का उद्देश्य था समाज के अंतिम सिरे पर खड़े व्यक्ति तक सुविधाएं पहुंचाना है, लेकिन मौजूदा सरकार गरीब और किसानों का पैसा सिर्फ उन 15 अमीरों के लिए खर्च कर रही है, जिन्हें सरकार मानती है कि देश में विकास इन्ही की बदौलत होता है। राहुल गांधी ने बैंकों को चूना लगाकर विदेशों में जा छुपे विजय माल्या , नीरव मोदी और ललित मोदी का नाम लेकर कहा कि केंद्र सरकार इन्हीं के लिए काम कर रही है।

rahul gandhi
IMAGE CREDIT: patrika

राहुल गांधी ने आंकड़ों का जिक्र करते हुए कहा कि आज देश में मनरेगा का बजट 35 हजार करोड़ रुपए है, इतनी रकम तो नीरव मोदी लेकर भाग गया। राहुल गांधी ने किसानों के कर्ज माफी का जिक्र किया। राहुल ने कहा कि केंद्र सरकार किसानों का कर्जा माफ नहीं करती, वो कहते हैं कि कर्ज माफी हुई तो किसानों की आदत खराब हो जायेगी, लेकिन उद्योगपतियों का ढाई लाख करोड़ रुपये का कर्ज माफी कर दिया। राहुल गांधी ने सवाल किया कि, क्या अमीर लोगों का कर्जा माफ करने से उनकी आदत खराब नहीं होती? किसानों की ही आदत खराब होती है?

 

rahul gandhi
IMAGE CREDIT: patrika

जमीन पर होगा आदिवासियों का अधिकार : राहुल गांधी ने जमीन अधिग्रहण बिल को लेकर भी केंद्र और राज्य सरकार को आड़े हाथों लिया। राहुल गांधी ने कहा कि यूपीए सरकार ने जो बिल बनाया था, उसके मुताबिक बिना आपसे पूछे कोई जमीन नहीं ले सकता था, और अगर लेता, तो चार गुनी राशि देनी पड़ती । केंद्र सरकार ने उस वक्त राज्यसभा और लोकसभा में समर्थन किया, लेकिन बैक डोर से राज्यों में भू-अधिग्रहण बिल को बदल दिया। छत्तीसगढ़ में सरकार बनते ही यहां के लोगों को जल जंगल जमीन की रक्षा का अधिकार मूल रहवासियों को दिया जाएगा। देश में मौजूदा प्रधानमंत्री मन की बात कहते हैं। पर हम आप लोगों के मन की बात सुनकर काम करना चाहते हैं। सभा में राहुल ने लोगों से ये भी पूछा कि क्या यहां किसी को रोजगार मिला है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned