C-Section Birth vs Normal: नार्मल डिलीवरी के बच्चों को मां से मिलते हैं गुड बैक्टीरिया

C-Section Birth vs Normal: आज के समय में सी-सेक्शन या सीजेरियन डिलीवरी एक सामान्य बात हाे चली है।हालांकि डॉक्टर केस के आधार पर नार्मल या सी-सेक्शन डिलीवरी करने के लिए कहते हैं

Yuvraj Singh Jadon

September, 2405:12 PM

C-Section Birth vs Normal: आज के समय में सी-सेक्शन या सीजेरियन डिलीवरी एक सामान्य बात हाे चली है।हालांकि डॉक्टर केस के आधार पर नार्मल या सी-सेक्शन डिलीवरी करने के लिए कहते हैं। भारत में 2005 से 15 के बीच सी-सेक्शन या सीजेरियन डिलीवरी की दर दोगुनी होकर 17.2% हो गई।लेकिन अब एक शोध से पता चला है कि सिजेरियन बच्चों के पेट में नार्मल बच्चों के मुकाबले कम अच्छे बैक्टीरिया होते हैं।यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन, वेलकम सेंगर इंस्टीट्यूट और बर्मिंघम विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों द्वारा ये अध्ययन किया गया है।

Gut Bactiria: C-section vs Natural Birth
जर्नल नेचर में प्रकाशित इस शोध में शोधकर्ताओं ने शिशुओं के मल के नमूनों पर अध्ययन किया आैर नार्मल आैर सीजेरियन डिलीवरी के बच्चाें में पेट संबंधी अच्छे बैक्टीरिया जाेकि इम्यूनिटी सिस्टम काे बेहतर बनाने में सहायक हाेते हैं, के बीच बड़ा अंतर पाया। नार्मल डिलीवरी से जन्मे बच्चाें काे उनकी मां से अच्छे गट बैक्टिरिया मिले थे, लेकिन जाे बच्चे सीजेरियन डिलीवरी से हुए उनमें ये बैक्टिरिया बहुत कम थे।

Gut Bacteria Affected By Delivery Method
वैज्ञानिकाें ने कहा कि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि इस तरह के अंतर से भविष्य में बच्चों की सेहत पर क्या असर पड़ेगा।आैर ना ही शाेध का निष्कर्ष महिलाआें काे सीजेरियन डिलीवरी कराने राेकता है।लेकिन "बेबी बायोम" परियोजना - दुनिया का सबसे बड़ा ऐसा अध्ययन है, जिसने मानव प्रतिरक्षा के विकास के संबंध में एक नर्इ खाेज का दिशा दी है।

आंत सूक्ष्मजीव, लाखों रोगाणुओं का एक जटिल पारिस्थितिक तंत्र है ( Gut Microbiome Is A Complex Ecosystem Of Millions Of Microbes ) आैर प्रतिरक्षा प्रणाली कैसे विकसित होती है, जैसे वैज्ञानिक विचार के लिए महत्वपूर्ण है।

Development Of Human Immunity
पिछले शोधों में यह पता चला है कि कम आंत सूक्ष्मजीव के कारण स्थमा, एलर्जी और मधुमेह जैसे ऑटोइम्यून रोगों की सम्भावना अधिक रहती है।लेकिन वैज्ञानिक अभी तक यह पता लगाने में सक्षम नहीं हैं कि प्रारंभिक आंत माइक्रोबायोम - या "बेबी बायोम" - भविष्य की प्रतिरक्षा और स्वास्थ्य के लिए कितना महत्वपूर्ण है, या बच्चे का माइक्रोबायोम कैसे विकसित होता है, या जन्म के विभिन्न तरीकों से बेबी बायोम पर क्या असर हाेता है।

वैज्ञानिकों ने 175 माताओं और लगभग 600 शिशुओं से 1,600 से अधिक आंत बैक्टीरिया के नमूनों का विश्लेषण करने के लिए डीएनए अनुक्रमण का उपयोग किया।शाेध में पाया गया कि सीजेरियन डिलीवरी से पैदा हुए बच्चाें के मुकाबले नार्मल डिलिवरी से पैदा हुए बच्चाें काे मां से अच्छे सेहतमंद बैक्टीरिया मिले।

Show More
युवराज सिंह
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned