अच्छी नींद और मोटापा के लिए जान लें ये खास बातें

अच्छी नींद और मोटापा के लिए जान लें ये खास बातें

Vikas Gupta | Updated: 24 Feb 2019, 02:52:11 PM (IST) तन-मन

दिमाग को 'फूड' कम उपलब्ध होने से याददाश्त कमजोर होने लगती है।

अगर आप गहरी नींद लेना चाहते हैं तो योग करें, गोल्फ खेलें या बागवानी करें। पेंसिल्वेनिया के शोधकर्ताओं ने अपने अध्ययन में इन तीनों एक्टिविटीज को काफी महत्त्वपूर्ण माना है। शोधकर्ताओं के अनुसार भले ही घरेलू कामकाज करें या बच्चे को पालें इससे आप सिर्फ थकते हैं, गहरी नींद नहीं ले पाते हैं। इस अध्ययन को एसोसिएटेड प्रोफेशनल स्लीप सोसाइटी में प्रकाशित किया गया।

मोटापा भुलक्कड़ बना सकता है -
शिकागो के वैज्ञानिकों की मानें तो पेट पर ज्यादा चर्बी भुलक्कड़ बना सकती है। दिमाग का 'स्मृति केंद्र' यानी हिप्पोकैम्पस व लिवर, पीपीएआर अल्फा पर निर्भर करते हैं। लिवर इसका प्रयोग पेट की चर्बी को बर्न करने के लिए करता है और हिप्पोकैम्पस मेमोरी को प्रोसेस करने में। पेट की चर्बी ज्यादा होने से लिवर को इसे बर्न करने के लिए पीपीएआर अल्फा का ज्यादा प्रयोग करना पड़ता है। नतीजतन दिमाग को 'फूड' कम उपलब्ध होने से याददाश्त कमजोर होने लगती है।

वसायुक्त भोजन व्यवहार पर भारी -
एक नए अध्ययन में चेतावनी दी गई है कि अत्यधिक वसायुक्त भोजन घबराहट, याददाश्त में कमी और बर्ताव में दोहराव का कारण बन सकता है। हमारी आंतों में कई सूक्ष्मजीव पाए जाते हैं जो भोजन को पचाने का काम करते हैं। वसायुक्त भोजन लेने पर दिमाग और इन सूक्ष्मजीवों में तालमेल गड़बड़ा जाता है जिससे तनाव, मूड स्विंग होना,बेचैनी और चिड़चिड़ापन होने लगता है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned