आंखों से जुड़ी इन समस्याओं के लिए जान लें ये खास बातें

आयुर्वेद के अनुसार आंखों की कमजोर मांसपेशियों का इलाज यदि शुरुआती अवस्था में ही कर लिया जाए तो चश्मा हटने के साथ ही इसका नंबर भी कम किया जा सकता है।

Vikas Gupta

September, 2003:15 PM

आजकल ज्यादातर अभिभावकों की एक ही शिकायत रहती है कि उनके बेहद कम उम्र के बच्चों को चश्मा लग गया है। इसका नंबर उम्र के साथ लगातार बढ़ता भी जा रहा है। इसके अलावा देखने में दिक्कत, भेंगापन आदि समस्याएं भी आम हैं।

ऐसे में आयुर्वेद के अनुसार आंखों की कमजोर मांसपेशियों का इलाज यदि शुरुआती अवस्था में ही कर लिया जाए तो चश्मा हटने के साथ ही इसका नंबर भी कम किया जा सकता है। लेकिन जिनका नंबर काफी अधिक है उनमें चश्मा हटना संभव नहीं लेकिन नंबर को बढ़ने से रोका जा सकता है।

इसके अलावा आंखों की कमजोर मांसपेशियों को मजबूत करने के लिए डाइट और उपचार के अलावा आंख संबंधी व्यायाम अहम भूमिका निभाते हैं।

जैसे आंखों को दाएं-बाएं, ऊपर-नीचे और गोलाकार घुमा सकते हैं। इसके अलावा एक हाथ की दूरी पर अंगुली को देखें। एक ही सीध में इसे धीरे-धीरे पास लाएं और दूर ले जाने का अभ्यास करें।

Show More
विकास गुप्ता
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned