कभी अमिताभ बच्चन और Amar Singh के बीच था गहरा याराना, इस कारण टूटी थी दोस्ती

By: Sunita Adhikari
| Updated: 01 Aug 2020, 11:26 PM IST
कभी अमिताभ बच्चन और Amar Singh के बीच था गहरा याराना, इस कारण टूटी थी दोस्ती
Amitabh Bachchan Amar Singh

  • सालों बाद अपनी किडनी का इलाज करवाने के दौरान अमर सिंह अमिताभ बच्चन से माफी मांगी थी। उन्होंने सिंगापुर से अपना एक वीडियो (Amar Singh Video) साझा किया था।

नई दिल्ली: राज्यसभा सांसद अमर सिंह (Amar Singh Died) का शनिवार को सिंगापुर में निधन हो गया। उनकी उम्र 64 साल थी। अमर सिंह सिंगापुर में अपनी किडनी का इलाज करवा रहे थे। अमर सिंह उत्तर प्रेदश (Uttar Pradesh) से राज्यसभा सांसद थे। वे कभी उत्तर प्रदेश के कद्दावर नेताओं में आते थे। इस दौरान उनकी बच्चन परिवार से दोस्ती काफी सुर्खियां बटोरती थी। लेकिन एक वक्त ऐसा भी आया कि अमर सिंह बच्चन परिवार के खिलाफ हो गए। उनके और बिग बी की दोस्ती में दरार आ गई।

दरअसल, बात 90 के दशक की है जब अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) करियर के बुरे दौर से गुजर रहे थे। उनकी कंपनी भी दिवालिया हो चुकी थी। ऐसे में अमर सिंह उनकी जिंदगी में देवदूत बनकर आए। अमर सिंह खुद यह कह चुके हैं कि जब बड़े कॉपोर्रेट घरानों ने भी बिग बी की मदद करने से इंकार कर दिया था तब उन्होंने अमिताभ बच्चन को डूबने से बचाया था। उसके बाद दोनों के बीच गहरी दोस्ती हो गई।

दोनों के रिश्ते साल 2010 में उस वक्त बिगड़ने शुरू हुए जब समाजवादी पार्टी के साथ बगावत में बच्चन परिवार अमर सिंह के साथ खड़ा नहीं हुआ। अमर सिंह को यह उम्मीद थी कि उनके साथ जया बच्चन (Jaya Bachchan) भी समाजवादी पार्टी छोड़ेंगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ। इसके बाद अमिताभ बच्चन और जया बच्चन पर अमर सिंह निशाना साधते रहते। अमर सिंह जया और ऐश्वर्या (Aishwarya Rai Bachchan) के रिश्ते को लेकर निशाना साधा। साथ ही एक ट्वीट में अमर सिंह ने जया बच्चन को संसद में दिए गए उनके बयान को लेकर उन्हें घेरा था।

हालांकि सालों बाद अपनी किडनी का इलाज करवाने के दौरान अमर सिंह अमिताभ बच्चन से माफी मांगी थी। उन्होंने सिंगापुर से अपना एक वीडियो (Amar Singh Video) साझा किया था। वीडियो में अमर सिंह कहते हैं कि वह अभी जिंदगी और मौत से जूझ रहे हैं। उन्होंने कहा कि पिछले 10 साल में उनके और अमिताभ के रिश्ते कैसे भी रहे हों लेकिन अमिताभ कभी भी उनके पिता की पुण्यतिथि पर उन्हें मैसेज करना नहीं भूले हैं। मुझे अमित जी और उनके परिवार के खिलाफ अपनी टिप्पणी के लिए खेद है। ईश्वर सभी को आशीवार्द दे।