Saroj Khan के निधन के बाद टेरेंस लुइस और Govinda ने किया उन्हें याद

By: Sunita Adhikari
| Published: 04 Jul 2020, 06:23 PM IST
Saroj Khan के निधन के बाद टेरेंस लुइस और Govinda ने किया उन्हें याद
Govinda pays his respect to Saroj Khan

  • बॉलीवुड कोरियोग्राफर टेरेंस लुईस (Terence Lewis)ने दिवंगत कोरियोग्राफर Saroj Khan को याद करते हुए उनकी तारीफ की है। लुईस ने एक पोस्ट शेयर करते हुए उन्हें एक लौह महिला की उपाधि दी है, जिन्हें डर नहीं लगता था।

नई दिल्ली: मशहूर कोरियोग्राफर सरोज खान (Saroj Khan Died) का शुक्रवार को कार्डियक अरेस्ट के चलते निधन हो गया। उनके निधन से पूरी फिल्म इंडस्ट्री (Film Industry) में शोक की लहर है। सरोज खान (Saroj Khan) ने अपने फिल्मी करियर के दौरान कई बड़े सितारों के साथ काम किया। श्रीदेवी- माधुरी दीक्षित (Madhuri Dixit) से लेकर आज की जेनरेशन की एक्ट्रेसेस सारा अली खान (Sara Ali Khan) और अनन्या पांडे के गानों को कोरियोग्राफ किया। उनके निधन के बाद हर कोई सरोज खान को सोशल मीडिया के जरिए श्रद्धाजंलि दे रहा है। बॉलीवुड कोरियोग्राफर टेरेंस लुईस ने दिवंगत कोरियोग्राफर को याद करते हुए उनकी तारीफ की है।

लुईस ने एक पोस्ट शेयर करते हुए उन्हें एक लौह महिला की उपाधि दी है, जिन्हें डर नहीं लगता था। टेरेंस लुइस ने कहा कि सरोज खान ने कोरियोग्राफरों के लिए डांस का स्वर्ण मानक तय किया। वह अपने जीवनकाल में एक जीवित लीजेंड थीं और अपने प्यार और मेहनत के माध्यम से कोरियोग्राफी को फिल्म व्यवसाय का एक पहचानने योग्य और मूल्यवान हिस्सा बना दिया। इसके बाद टेरेंस ने उनके साथ अपने रिश्ते को लेकर कहा कि हमारे बीच सम्मान का एक रिश्ता था। मैं भाग्यशाली था कि मुझे उनसे उनके निजी जीवन के बारे में जानकारी मिली और उनके प्रति मेरा सम्मान और भी बढ़ गया।"

View this post on Instagram

Celebrating Saroj Ji : An ode to a legend ! 🙏🏽😍 An Iron Lady who was not afraid to call a spade a spade! She was the only choreographer in the 90s n early 2000s where both the Producers n the SuperStars Revered n Feared her, with due respect ! I personally admired her grasp in being able to capture the mood of the music n her ability to interpret lyrics through dance n movement, transforming music n poetry into a heightened visual art! Sarojji was also the first Dance Masterji who worked so hard with her craft, that our film industry prior to 1988, hadn't even recognised it as a craft, till she came along n made them stand up on their feet ( literally n figuratively ) n take notice, giving her n the choreography department, due recognition in cinema! Such was the power of her work! Her biggest strength was her ability to transform the raunchiest lyrics and 'Dignify' it , with her artistic compositions ! In songs like Dhak Dhak and Choli ke Peeche, Sarojji with her beautiful muse Madhuri Dixit, who deserves credit too, created magic with her sheer brilliance n artistry, setting Gold Standards in Choreography ! Her work in cinema is a 'Bible of choreography' for me ! At a personal level, we shared a relationship of respect and her wit and candour was not everyone's cup of tea but I was besotted by her body of work and the power she exuded, so would take her punches with a pinch of salt! So besotted was I, that I would enjoy her rebukes... so smitten was I, that if she told me to get down on my knees n kiss her feet I would and that's asking way too much from me cause I rarely indulge in such heightened emotions! And yes I have to admit that if there is one person whose feet I have touched with genuine respect, then it would be her's, cause I come from a school of thought which has a very different take on respect n tokenism but we all have exceptions n Sarojji was that only exception! In my view, her epitaph would read "Here is an amazing woman who lived, loved, laboured n nurtured...Unabashed Unapologetic! " RIP #sarojkhan #doyen Let's celebrate her art, her spirit & let's keep her legacy alive ! Love n Respect! TL

A post shared by Terence Lewis (@terence_here) on

टेरेंस के अलावा हाल ही में एक्टर गोविंदा (Govinda) ने भी सरोज खान को श्रद्धाजंलि दी है। गोविंदा वीडियो में कहते हैं, "सरोज खान जी आज हमारे बीच नहीं रहीं। मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि वह आपकी आत्मा को शांति प्रदान करें। मैं खुदा से दुआ करता हूं कि वो आपको जन्नत नसीब कराए। मैं आपके साथ वह पहली मुलाकात कभी भूलता नहीं हूं, जब मैं कह रहा था कि मैं आपसे डांस सीखना चाहता हूं, पर मेरे पास पैसे नहीं हैं और आप बहुत ही प्रेम से कह गईं, आएंगे तब देखेंगे। आप जैसे अच्छे, सुविचार, सुसभ्य, सुसंगति वाले लोगों के माध्यम से ही, हम जैसे आम आदमी गोविंद से निकलकर गोविंदा हो पाते हैं। अभी यह अल्फाजों में बयां नहीं किया जा सकता।" गोविंदा का यह वीडियो काफी वायरल हो रहा है।

View this post on Instagram

#Rip Saroj Khan ji 🙏🏻💔 Masterji Love you always !!

A post shared by Govinda (@govinda_herono1) on

आपको बता दें कि सरोज खान ने करीब 2000 से ज्यादा गानों को कोरियोग्राफ किया है। सरोज खान को उनके काम के लिए 3 बार नेशनल अवॉर्ड (Saroj Khan National Award) से भी नवाजा चुका है। सरोज खान ने महज तीन साल की उम्र में बतौर बाल कलाकार फिल्मों में काम करना शुरू कर दिया था। उनकी पहली फिल्म (Saroj Khan First Film) 'नजराना' थी जिसमें उन्होंने श्यामा नाम की बच्ची का किरदार निभाया था। उसके बाद 50 के दशक में सरोज खान ने बैकग्राउंड डांसर के तौर पर काम करना शुरू किया।

Govinda latest news