इरफान खान का आखिरी ऑडियो था बेहद इमोशनल, पहले से हो गया था मौत का एहसास

By: Neha Gupta
| Published: 29 Apr 2021, 10:04 AM IST
इरफान खान का आखिरी ऑडियो था बेहद इमोशनल, पहले से हो गया था मौत का एहसास
Irrfan Khan

इरफान खान ने पिछले साल 29 अप्रैल को हम सभी को अलविदा कह दिया था। उन्होंने एक ऑडियो मैसेज जारी किया था जिसमें इस बात का जिक्र किया था कि आगे कुछ भी हो सकता है।

नई दिल्ली | बॉलीवुड के शानदार एक्टर इरफान खान ने पिछले साल 29 अप्रैल को दुनिया को अलविदा कह दिया था। आज इरफान खान की डेथ एनिवर्सरी है। इरफान के दमदार अभिनय के लिए लोग उनकी तारीफ करते नहीं थकते हैं। हिंदी सिनेमा को इरफान ने कई बेहतरीन किरदार दिए हैं और हर किसी के लिए उन्हें भुलाना नामुमकिन जैसा है। जैसे इरफान के किरदार बिल्कुल रियल लगते थे वैसे ही उन्होंने अपनी बीमारी को भी पहले ही दुनिया के सामने रख दिया था और मौत की तरफ इशारा कर दिया था। जब इरफान कैंसर से ग्रस्त हुए उसके बाद उन्हें इस बात का एहसास था कि अब उनके पास थोड़ा वक्त बचा है। इरफान ने 12 मार्च 2020 को रिलीज अपनी फिल्म ‘अंग्रेजी मीडियम’ के ट्रेलर में बहुत ही गहरी लाइन्स कही थी।

ऑडियो मैसेज के जरिए कही थी बात

उन्होंने कहा था कि हेलो भाइयों बहनों, नमस्कार मैं इरफान। मैं आज आपके साथ हूं भी और नहीं भी। खैर, ये फिल्म अंग्रेजी मीडियम मेरे लिए बहुत खास है। सच यकीन मानिए मेरी दिली ख्वाहिश थी इस फिल्म को उतने ही प्यार से प्रमोट करूं, जितने प्यार से हम लोगों ने बनाया है। लेकिन मेरे शरीर के अंदर कुछ अनवॉन्टेड मेहमान बैठे हुए हैं। उनसे वार्तालाप चल रहा है। देखते हैं किस करवट ऊंट बैठता है। जैसा भी होगा, आपको इतल्ला कर दी जाएगी।

मौत का था पहले से एहसास

इरफान ने आगे कहा कि कहावत है- ‘इफ लाइफ गिव्स यू लेमन, यू मेक लेमनेड’। बोलने में अच्छा लगता है पर सच में जब जिंदगी आपके हाथ में नींबू थमाती है न, तो शिकंजी बनाना बहुत मुश्किल हो जाता है। लेकिन आपके पास पॉजिटिव रहने के अलावा और च्वाइस भी क्या है। इन हालात में नींबू की शिकंजी बना पाते हैं या नहीं बना पाते हैं, ये आप पर है। हम सबने इस फिल्म को उसी पॉजिटिविटी के साथ बनाया है। मुझे उम्मीद है कि ये फिल्म आपको सिखाएगी, हंसाएगी, रुलाएगी, फिर हंसाएगी शायद। एन्जॉय द ट्रेलर।

टीवी से फिल्मों का सफर

इरफान की इन लाइनों को सुनकर हर कोई भावुक हो गया था। अंग्रेजी मीडियम उनकी आखिरी फिल्म थी। इरफान ने अपने फिल्मी करियर में कई शानदार फिल्में दीं। जिसमें 'स्‍लमडॉग मिलेनियर', 'पान सिंह तोमर', 'द लंचबाक्‍स', 'लाइफ इन अ मेट्रो', ‘पीकू’ और 'हिंदी मीडियम' जैसी फिल्में शामिल हैं। इरफान ने टीवी में भी कई शानदार शोज किए हैं। जिसमें 'चंद्रकांता', 'चाणक्य' और 'बनेगी अपनी बात' शामिल हैं।