विवादों भरी रही जया प्रदा की जिंदगी, तीन बच्चों के पिता से की थी शादी फिर भी रहीं अकेली

By: Neha Gupta
| Published: 03 Apr 2021, 04:04 PM IST
विवादों भरी रही जया प्रदा की जिंदगी, तीन बच्चों के पिता से की थी शादी फिर भी रहीं अकेली
Jaya Prada

जया प्रदा ने अपने फिल्मी करियर में 300 से ज्यादा फिल्में की हैं। उनका एक्टिंग करियर खूब सफल रहा लेकिन पर्सनल लाइफ काफी विवादों भरी रही। जया प्रदा की मुश्किल घड़ी में उनका साथ अमर सिंह ने दिया था।

नई दिल्ली | जयाप्रदा बॉलीवुड की उन खूबसूरत अभिनेत्रियों में से एक हैं जिन्होंने फिल्म इंडस्ट्री को कई बेहतरीन फिल्में दी हैं। आज यानी कि 3 अप्रैल को एक्ट्रेस अपना जन्मदिन मना रही हैं। जया ने अपने फिल्मी करियर में 200 से ज्यादा फिल्मों में काम किया है। कई सालों तक वो हिंदी सिनेमा की टॉप एक्ट्रेसेस में शुमार रहीं। उसके बाद जया प्रदा ने राजनीति की तरफ रुख किया और वहां भी सफल रहीं। जितना सफल उनका एक्टिंग करियर रहा उतना ही विवादों में उनकी पर्सनल लाइफ रही। फिर चाहे बात तीन बच्चों के पिता से शादी करना हो या फिर आजम खान से परेशान होकर आत्महत्या जैसा कदम उठाने के लिए मजबूर होना हो।

तीन बच्चों के पिता से की जया प्रदा ने शादी

जया प्रदा ने बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट फिल्मों में काम करना शुरू कर दिया था। 80 के दशक में जया टॉप की एक्ट्रेस मानी जाती थीं। जितेंद्र से लेकर अमिताभ बच्चन जैसे बड़े स्टार्स के साथ जया ने सुपरहिट फिल्में दीं। जिसमें तोहफा, शराबी, मकसद, सिंदूर, आज का अर्जुन, थानेदार और मां जैसी फिल्में शामिल हैं। जयाप्रदा ने साल 1986 में प्रोड्यूसर श्रीकांत नहाटा से शादी कर ली। लेकिन वो पहले से शादीशुदा थे और उन्होंने अपनी पहली पत्नी को बिना तलाक दिए इस कदम को उठाया। श्रीकांत के तीन बच्चे भी थे। जिस कारण जया प्रदा की आजतक कोई संतान नहीं है। श्रीकांत नहीं चाहते थे कि उनका कोई बच्चा हो। जया ने अपनी बहन के बेटे सिद्दू को गोद ले लिया और चाहकर भी कभी उन्हें पत्नी का दर्जा नहीं मिल पाया। जया की शादी काफी विवादों में रही थी।

आजम खान पर लगाया बड़ा आरोप

फिल्मों के बाद जया प्रदा ने 1994 में तेलुगु देशम पार्टी ज्वॉइन की थी। 1996 में जया आंध्र प्रदेश से राज्यसभा सांसद बन गई। लेकिन बाद में पार्टी के साथ कुछ मतभेदों के चलते उन्होंने साल 2004 में समाजवादी पार्टी ज्वॉइन कर ली। उन्हें रामपुर की सीट के लिए टिकट मिला। इसी दौरान साल 2009 में जया ने सपा के वरिष्ठ नेता आजम खान पर बड़ा आरोप लगाया। खबरों की मानें तो उन्होंने कहा था कि आजम खान उनकी न्यूड तस्वीरें इधर-उधर फैला रहे हैं। साथ ही आपत्तिजनक सीडियां भी वायरल कर रहे हैं। जयाप्रदा ने इसकी शिकायत पार्टी प्रमुख रहे मुलायम सिंह यादव से भी की लेकिन उन्हें कोई राहत नहीं मिली। जया ने एक बार खुद कहा था कि उस दौरान उन्हें खुद के ऊपर एसिड अटैक का भी डर रहता था। इस दौरान उनकी मदद के लिए अमर सिंह आगे आए थे।

ये भी पढ़ें- एक दूसरे से बात करना तक पसंद नहीं करती थीं श्रीदेवी और जया प्रदा, 9 फिल्मों में निभाया बहनों का किरदार

अमर सिंह बने जया के गॉडफादर

अमर सिंह ने जया के लिए आवाज उठाई थी। जया ने ये भी बताया था कि एक वक्त पर वो आत्महत्या तक करने की कोशिश भी कर रही थी। आजम खान के खिलाफ आवाज बुलंद करने पर जया को पार्टी ने इमेज खराब करने को लेकर निष्कासित कर दिया था। आजम खान और जया के बीच बाद में भी टीका-टिप्पणी की जाती रही। यहां तक कि आजम खान ने जया के अंडरगार्मेंट्स को लेकर आपत्तिजनक बयान भी दे दिया था। उन्होंने कहा था कि आप लोगों ने 10 साल जिनसे अपना प्रतिनिधित्व कराया, उसकी असलियत समझने में आपको 17 साल लग गए, मैं 17 दिन में पहचान गया कि इनके नीचे का अंडरवियर खाकी रंग का है।‘

अमर सिंह और जया प्रदा के रिश्तों पर उठे सवाल

अमर सिंह का जयाप्रदा की मदद करने के बाद दोनों के रिश्ते पर भी सवाल उठने लगे थे। उनकी तस्वीरों को गलत तरह से पेश करके लिंकअप की खबरें उड़ने लगी थी। हालांकि जयाप्रदा ने सफाई में कहा था कि वो अमर सिंह का अपना गॉडफादर, गुरू और दोस्त मानती हैं। लोगों को जो भी बातें करनी हैं वो कर सकते हैं। अमर सिंह ने जया प्रदा के पक्ष में कहा था कि वो अगर आजम खान पर मीटू का आरोप लगा दें तो उन्हें जेल जाना पड़ जाएगा। अब जया प्रदा भाजपा में शामिल हो चुकी हैं।