मुंबई में फंसे 173 प्रवासी श्रमिकों को Sonu Sood ने विमान से भेजा उत्तराखंड, सभी ने तालियां बजाकर किया धन्यवाद

By: Sunita Adhikari
| Published: 06 Jun 2020, 08:40 AM IST
मुंबई में फंसे 173 प्रवासी श्रमिकों को Sonu Sood ने विमान से भेजा उत्तराखंड, सभी ने तालियां बजाकर किया धन्यवाद
Sonu Sood Sent Workers By Plane

  • सोनू सूद ने एयर एशिया इंडिया के एक विमान से मुंबई से 173 प्रवासी श्रमिकों (Sonu Sood Sent Workers By Plane) को उनके घर उत्तराखंड (Uttrakhand) भेजा।

नई दिल्ली: बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद (Sonu Sood) इन दिनों प्रवासी मजदूरों के मसीहा के तौर पर सामने आए हैं। जब से देश में कोरोना वायरस (Coronavirus In India) ने दस्तक दी है, तभी से रोजी रोटी के लिए गांव से शहर में आए प्रवासी मजदूरों (Migrant Workers) का पलायन जारी है। लेकिन मजदूरों को पैदल सड़कों पर चलता देख सोनू सूद ने उनकी मदद (Sonu Sood Helping Migrants) करने का फैसला लिया। उन्होंने अपने खर्चे पर बसों का इंतजाम किया और प्रवासी मजदूरों को खाना के साथ उनके घर भेजा। अभी तक वह हजारों लोगों को घर भेज चुके हैं और उनका ये काम जारी है। पहले बस, फिर ट्रेन और अब हवाई जहाज का भी सहारा सोनू ले रहे हैं।

रेल कोच के टॉयलेट के पास सोते थे Sonu Sood, बहन मल्विका ने कहा, उसे मजदूरों का दर्द पता है

173 श्रमिकों को विमान से भेजा घर

सोनू सूद ने एयर एशिया इंडिया के एक विमान से मुंबई से 173 प्रवासी श्रमिकों (Sonu Sood Sent Workers By Plane) को उनके घर उत्तराखंड (Uttrakhand) भेजा। एयर एशिया इंडिया के एक प्रवक्ता ने पीटीआई-भाषा को बताया कि एयरबस ए320 मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे दोपहर के लगभग 1:57 पर उड़ान भरी और शाम 4:41 पर यह देहरादून के जॉली ग्रांट हवाई अड्डे पर उतरा।

कभी नहीं की थी विमान की यात्रा

प्रवासियों को हवाई जहाज से घर भेजने से पहले सोनू सूद ने कहा कि इनमें से ज्यादातर ने कभी प्लेन की यात्रा नहीं की थी। जब वह घर जाने के लिए एयर एशिया इंडिया के विमान में प्रवेश कर रहे थे तो उनके चेहरे की खुशी देखने लायक थी। एयरपोर्ट का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें सोनू सारे इंतजाम देखते हुए नजर आ रहे हैं। वहीं घर जा रहे लोगों में से एक महिला ने कहा, हम दो ढाई महीने से फंसे हुए थे। सोनू सूद हमें अब फ्लाइट से भेज रहे हैं। हम अगले साल सोनू भाई को राखी भेजेंगे। वीडियो में दूसरी महिला कहती हैं कि हम काफी दिन से भटक रहे थे लेकिन सोनू सूद की वजह से आज हम घर जा रहे हैं। उसके बाद वह एक्टर को थैक्यूं कहती हैं। उसके बाद जब सोनू सूद एयरपोर्ट से निकल रहे होते हैं तो सभी प्रवासी श्रमिक तालियां बजाते हुए उन्हें थैक्यूं कहते हैं।

इसपर सोनू सूद का कहना है कि वह आगे भी जरूरत पड़ने पर अपने खर्च पर लोगों को उनके घर भेजने के लिए विमानों का इंतजाम करते रहेंगे। इससे पहले एक्टर ने केरल में फंसे प्रवासी 167 श्रमिकों को विमान से उनके घर पहुंचाया था।

आपको बता दें कि सोनू सूद ने एक इंटरव्यू में कहा था कि जब तक आखिरी मजदूर अपने घर नहीं पहुंच जाता, मैं अपना काम जारी रखूंगा। उन्होंने ट्रेनों से भी लाइनअप की जिससे भी कई लोगों को उनके घर भेजा गया। एक्टर ने कहा था, हमारा मिशन 50 हजार (Sonu Sood Will Help 50 Thousand Migrants) या उससे ज्यादा मजदूरों को उनके घर भेजने का है। बता दें कि सोनू सूद ने बताया था कि मैं प्रवासी मजदूरों की मदद इसलिए कर रहा हूं क्योंकि मैं भी कभी प्रवासी था, जो अपनी आंखों में ढेर सारे सपने लेकर मुंबई आया था।

View this post on Instagram

Stay Focused On What Matters!

A post shared by Sonu Sood (@sonu_sood) on

Show More