scriptvicky koushal struggle for masan movie | बनारस में चलती चिता के सामने घंटों तक क्यों बैठे रहते थे विकी कौशल | Patrika News

बनारस में चलती चिता के सामने घंटों तक क्यों बैठे रहते थे विकी कौशल

उरी द सर्जिकल स्ट्राइक के बाद विकी कौशल को वह स्टारडम मिला जिसके तलाश इंडस्ट्री में स्ट्रगल कर रहा हर एक्टर चाहता है। लेकिन उस स्टारडम के पीछे के संघर्ष के दौर से कम ही लोग गुजर पाते हैं। आइए जानते हैं क्या उनके संघर्ष से जुड़ी ये कहानी।

नई दिल्ली

Published: November 06, 2021 12:41:12 pm

फिल्मी सितारें अपने रोल को बेहतर से बेहतर बनाने के लिए किसी भी हद तक गुजर जाते हैं। उन्हें कुछ ऐसा भी करना पड़ा है जो उन्होंने पहले कभी न किया हो और वो सामान्य जीवन की तुलना में इकाई बार कठिन भी होता है। हालांकि बाद में उन्हें अपनी मेहनत और संघर्ष का फल भी मिलता है और जब फिल्म बड़े पर्दे पर रिलीज होती है तो वे अपने बेहतरीन काम से दर्शकों का दिल जीत लेते हैं।
vicky koushal struggle for masan movie
बनारस में चलती चिता के सामने घंटों तक क्यों बैठे रहते थे विकी कौशल
विकी कौशल स्टंट डायरेक्टर शाम कौशल के बेटे हैं। लेकिन बॉलीवुड से पुराना नाता होने कारण उन्हें कम संघर्ष नहीं करना पड़ा। उन्होनें छोटे मोटे रोल्स से अपने करियर की शुरूआत की। इसी बीच वे बहुचर्चित फिल्म गैंग्स ऑफ वासेपुर में बतौर असिस्टेंट डायरेक्टर काम किया।
इसी फिल्म फिल्म से उन्हें खास पहचान तो नहीं मिली लेकिन इसी फिल्म से जुड़े नीरज घैवान ने उनकी प्रतिभा को देखकर उन्हें फिल्म ‘मसान’ में मुख्य अभिनेता के तौर पर रोल ऑफर किया। जिसे विकी कौशल मना नहीं कर सके।
हालांकि विकी कौशल से पहले यह किरदार गैंग्स ऑफ वासेपुर से सुर्खियां बटोर चुके राजकुमार राव को ऑफर किया गया था। लेकिन किन्हीं कारणों से उन्होनें इस किरदार के लिए मना कर दिया। जिसके बाद यह रोल विकी कौशल को दिया गया।
विकी कौशल ने ‘मसान’ के लिए भरपूर मेहनत की, जो कि फिल्म में नजर भी आती है। इस फिल्म में उन्होनें बनारस के गंगा घाट पर मृत शरीरों का अतिंम संस्कार करने वाले डोमराजा का किरदार निभाया था।
अपने किरदार में पूरी तरह से उतरने के लिए विक्की घंटों तक जलती हुए चिता के सामने बैठे रहते थे। शूटिंग के दौरान विक्की का कई दिनों तक मुर्दों से सामना होता था। इस दौरान कई चिताएं उन्होंने अपनी आंखों से जलती हुई देखी और उनके देखरेख भी की।
आखिरकार विकी कौशल की मेहनत रंग लाई और उन्हें इस किरदार के लिए दर्शकों से तथा क्रिटिक्स से बेहद प्रशंसा मिली जिसके बाद से उनके लिए बॉलीवुड के रास्ते हमेशा के लिए खुल गए।
फिल्म बॉक्स ऑफिस पर रिलीज के वक्त के लोगों को प्रभावित तो नहीं कर सकी थी। लेकिन विकी कौशल की लोकप्रियता के बाद लोगों ने इस फिल्म को ज्यादा पसंद किया।

फिल्म में विक्की के अलावा पंकज त्रिपाठी, संजय मिश्रा, रिचा चड्ढा, श्वेता त्रिपाठी जैसे कलाकारों ने भी मुख्य भूमिका निभाई थी। ख़ास बात यह है कि फिल्म ने साल 2015 में कॉन्स फिल्म फेस्टिवल में दो अवॉर्ड भी जीते थे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

पंजाबः अवैध खनन मामले में ईडी के ताबड़तोड़ छापे, सीएम चन्नी के भतीजे के ठिकानों पर दबिशPunjab Assembly Election 2022: पंजाब में भगवंत मान होंगे 'आप' का सीएम चेहरा, 93.3 फीसदी लोगों ने बताया अपनी पसंदUttarakhand Election 2022: हरक सिंह रावत को लेकर कांग्रेस में विवाद, हरीश रावत ने आलाकमान के सामने जताया विरोधUP Election 2022 : अखिलेश के अन्न संकल्प के बाद भाकियू अध्‍यक्ष का यू टर्न, फिर किया सपा-रालोद गठबंधन के समर्थन का ऐलानभारत के कोरोना मामलों में आई गिरावट, पर डरा रहा पॉजिटिविटी रेटकौन हैं भगवंत मान, जाने सबकुछशुक्र जल्द होंगे मार्गी, इन 5 राशि वालों को धन की प्राप्ति के बन रहे योगयहां पुलिस ने उठाया नक्सल प्रभावित गांवों के बच्चों को पढ़ाने का जिम्मा, नि:शुल्क कोचिंग में सपने गढ़ रहे छात्र
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.