अब उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में दलितों और सवर्ण में ठनी, गांव में छाया सन्नाटा

सवर्णों के मकान पर जय भीम लिखा पोस्टर चिपकाने के बाद तनाव

बुलंदशहर. एससी-एसटी एक्ट के बाद सूबे में दलितों और सवर्णों के मतभेद और गहराते जा रहे हैं। हर दिन कहीं न कहीं से दलित और सवर्णों में टकराव की खबरें आ ही जाती है। ताजा मामला उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर का है। बताया जाता है कि यहां के नरसेना थाना क्षेत्र के गांव सबदलपुर में कुछ शरारती तत्वों ने ठाकुरों के घर पर जय भीम लिखा पोस्टर चिपका दिया। इसकी खबर इलाके में आग की तरह फैल गई। इसके बाद सवर्ण समाज में काफी रोष देखने को मिला। वहीं, कुछ लोगों ने थाने पहुंचकर मामले की शिकायत की। मामला ताने तक पहुंचने के बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए दोनों पक्षों के लगभग 50 लोगों को मुचलके पाबंद कर दिए। इसके बाद पिल हाल गांव में शांति बनी हुई है।

यह भी पढ़ें- एप्पल के मैनेजर विवेक तिवारी को गोली मारने वाले सिपाही के लिए आई राहत भरी खबर

फिलहाल, गांव की सड़कों पर सन्नाटा पसरा हुआ है। कोई भी पक्ष कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है। वहीं, पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी इस मामले में मीडिया के सामने आने से बच रहे हैं। हालांकि, फोन पर हुई बातचीत में बताया कि मुचलके पर पाबंद हो जाने के बाद दोनों पक्षों में शांति है और स्थिति पर कड़ी नजर रखी जा रही है। किसी भी पक्ष को कानूनी कार्रवाई का उल्लंघन नहीं करने दिया जाएगा और हर हालत में शांति व्यवस्था बनाई जाएगी। गांव में जाटव समाज के लोगों पर पोस्टर चिपकाने को लेकर शक किया जा रहा है। ठाकुर समाज के लोगों का आरोप है कि यह हरकत शायद उनकी होगी। लेकिन किसी ने भी कैमरे के सामने बोलने की हिम्मत नहीं दिखाई। एक स्थान पर ठाकुर समाज के कुछ ग्रामीण बैठे मिले, इन लोगों ने काफी प्रयास के बाद बताया कि गांव के बच्चों ने इस प्रकार की हरकत की है। उन्होंने कहा कि पुलिस सहयोग कर रही है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि भीम राव अंबेडकर के बारे मे भी युवाओं को जानकारी दी जाएगी।

Show More
Iftekhar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned