प्रदेश के विभिन्न स्थानों से चम्बल नदी पर आने लगे अस्थि विसर्जन करने

प्रदेश के छोटे पुष्कर के नाम से विख्यात केशव धाम में विभिन्न हिस्सों से लोग अस्थियां विसर्जन करने के लिए आने लग गए हैं।

By: pankaj joshi

Published: 17 Sep 2020, 06:46 PM IST

प्रदेश के विभिन्न स्थानों से चम्बल नदी पर आने लगे अस्थि विसर्जन करने
केशवरायपाटन. प्रदेश के छोटे पुष्कर के नाम से विख्यात केशव धाम में विभिन्न हिस्सों से लोग अस्थियां विसर्जन करने के लिए आने लग गए हैं। केशव धाम में बहने वाली चर्मण्यवती में प्रदेश के अलग-अलग गांवों शहरों से लोग अस्थियां विसर्जन करने पहुंच रहे हैं। यहां पर बुधवार को मालपुरा कस्बे से जैन परिवार अस्थियां विसर्जन करने पहुंचे। मालपुरा निवासी पारस चंद जैन ने बताया कि उसकी मां के निधन के बाद वह यहां पर अस्थि विसर्जन करने आए हैं। चंबल नदी के मध्य मंत्रोच्चारण के साथ परिजनों ने अस्थियां विसर्जित की। जैन परिवार ने बताया कि चर्मण्यवती नदी का महत्व गंगा के समान होने से इस कोरोना काल में उन्होंने इसी स्थान को उपयुक्त मना है। यहां पर प्रतिदिन आधा दर्जन से अधिक लोग अस्थियां विसर्जन करने पहुंच रहे हैं।

 

 

नर्सेज के पदों को बढ़ाने की मांग
मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा
तालेड़ा. राजस्थान नर्सेज भर्ती में नर्स ग्रेड द्वितीय के पद बढ़ाने की मांग को लेकर बुधवार को संघर्ष समिति ने उपखण्ड अधिकारी को मुख्यमंत्री के नाम से ज्ञापन सौंपा। संघर्ष समिति के सदस्य चेतन भगत व राधेश्याम दाधीच ने ज्ञापन में बताया कि राज्य सरकार की ओर से नर्स ग्रेड द्वितीय भर्ती 2018 में पद 6035 है। इस समय कोविड-19 को देखते हुए पदों की संख्या कम है। विधायक, लोकसभा सांसद, तथा पूर्व विधायक ,पूर्व सांसद एंव विभिन्न पदाधिकारियों ने सरकार को भर्ती में पद बढ़ाने के लिए मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर अनुशंसा की। सरकारी संस्थाओं में 8-10 साल से अल्प वेतन में कार्यरत संविदा नर्सेज चयन से वंचित रह रहे है। संविदा नर्सेज के योगदान को देखते हुए पदों में 3500 पदों की वृद्धि करके चयन सूची जारी की जाए। इस दौरान संघर्ष समिति उच्चबलाल चौधरी, जयकुमार सोनी ,सुपेन्द्र चौधरी, नरेंद्र ,टोनु कुमावत, जितेंद्र मेरुठा मौजूद रहे।

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned