खस्ताहाल राष्ट्रीय राजमार्ग पर आए दिन हो रही दुर्घटनाएं

तालाब गांव बायपास राष्ट्रीय राजमार्ग 52 की क्षतिग्रस्त हालत हर दिन सडक़ हादसों का सबब बन रही है।

By: pankaj joshi

Published: 22 Sep 2020, 06:49 PM IST

खस्ताहाल राष्ट्रीय राजमार्ग पर आए दिन हो रही दुर्घटनाएं
जिम्मेदार अधिकारी नहीं उठा रहे हैं फोन
हिण्डोली. तालाब गांव बायपास राष्ट्रीय राजमार्ग 52 की क्षतिग्रस्त हालत हर दिन सडक़ हादसों का सबब बन रही है। जानकारी के अनुसार एक माह पूर्व राष्ट्रीय राजमार्ग के कर्मचारियों ने तालाब गांव बायपास सडक़़ काटकर वहां पाइपलाइन बिछाई थी। उसके बाद सडक़ को पूरी तरह से सही नहीं किया। ऐसे में यहां से गुजरने वाले वाहनों के दबाव से आर-पार नाली नुमा गड्ढा हो गया है। ऐसे में यहां पर प्रतिदिन दुर्घटनाएं हो रही हैं। गांव के लोगों ने बताया कि देवली से कोटा की ओर जाने वाले वाहन चालक तेज गति से हाइवे पर वाहन दौड़ाते हैं। सडक़ पर हो रहे गड्ढे पर अचानक नजर पडऩ़े से ब्रेक लगा देते हंै। इससे पीछे आ रहे वाहन टकरा जाते हैं। मामले की शिकायत पूर्व में राष्ट्रीय राजमार्ग के प्रोजेक्ट डायरेक्टर व मैनेजर से भी की थी, लेकिन उन्होंने इस ओर ध्यान नहीं दिया। लोगों का कहना है कि एनएचएआई के अधिकारियों को फोन करने पर वे फोन नहीं उठा रहे। ग्रामीणों ने केंद्रीय परिवहन मंत्री व प्रदेश के मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर क्षतिग्रस्त सडक़ को ठीक करवाने व लापरवाह अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।
सडक़ हुई जर्जर, हो रही परेशानी
सुवासा. सुवासा से सेदडी तीरथ लिंक सडक़ क्षतिग्रस्त होने से दुपहिया व चारपहिया वाहन चालकों को परेशानी हो रही है। सरपंच प्रियंका गोस्वामी ने बताया कि यह सडक़ लम्बे समय से क्षतिग्रस्त है। इस सडक़ से एक दर्जन से अधिक गांव वालों का कोटा आना-जाना रहता है। रात के समय कई बार वाहन चालक इस पर घायल हो चुके हैं। विभाग की ओर से बार-बार इस पर पैचवचर्क के नाम पर खानापूर्ति कर दी जाती है। हर बारिश में इसका हाल बुरा हो जाता है।

जर्जर सडक़ से निकलना हुआ मुश्किल
बड़ानयागांव. सथूर से हरिपुरा तक पांच किमी सडक़ पिछले काफी वर्षों से जर्जर हालत में है। ऐसे में यहां से गुजरना जोखिम भरा काम हो गया है। आए दिन यहां दुपहिया वाहन चालक चोटिल हो रहे हैं। हरिपुरा के वार्ड पंच महावीर गुर्जर ग्रामीण नरेश गुर्जर रमेश गुर्जर ने बताया कि सडक़ का निर्माण दस वर्ष पूर्व सार्वजनिक निर्माण विभाग ने कराया था। इसके बाद सडक़ का नवीनीकरण नहीं करने से कई वर्षों से सडक़ की डामर व गिट्टी पूरी तरह से गायब हो गई है। सहायक अभियंता मदन लाल नागर ने बताया कि प्रस्ताव तैयार कर भेज दिया है। स्वीकृति जारी होने पर नवीनीकरण का कार्य शुरू किया जाएगा।

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned