राजपूतों का गौरवशाली इतिहास, सबको साथ लेकर चलना रही संस्कृति

राजपूतों का गौरवशाली इतिहास, सबको साथ लेकर चलना रही संस्कृति

Nagesh Sharma | Publish: Sep, 07 2018 09:00:56 PM (IST) Bundi, Rajasthan, India

. राजपूत सोशल वॉरियर्स संस्थान का 13वां वार्षिक अधिवेशन शुक्रवार को शहर के नैनवां रोड स्थित गार्डन में हुआ।

-राजपूत समाज की 151 प्रतिभाओं का सम्मान
- राजपूत सोशल वारियर्स संस्थान का 13वां वार्षिक अधिवेशन
बूंदी. राजपूत सोशल वॉरियर्स संस्थान का 13वां वार्षिक अधिवेशन शुक्रवार को शहर के नैनवां रोड स्थित गार्डन में हुआ। समारोह में मुख्य अतिथि पूर्व सांसद इज्यराज सिंह हाड़ा थे। अध्यक्षता भाजपा के जिलाध्यक्ष महिपत सिंह हाड़ा ने की। अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा की संभाग अध्यक्ष निधि चंद्रावत, नैनवां नगर पालिका चेयरमैन मधु कंवर व पूर्व अतिरिक्त जिला कलक्टर बलदेव सिंह हाड़ा विशिष्ट अतिथि रहे। क्षत्रिय शिक्षा प्रचारिणी समिति के पूर्व अध्यक्ष भोपाल सिंह गौड़ व क्षत्रिय महासभा के जिलाध्यक्ष विजयराज सिंह मालकपुरा मुख्य वक्ता थे।
समारोह में 10वीं बोर्ड में 75 फीसदी से अधिक अंक प्राप्त करने वाली समाज की 40, 12वीं बोर्ड में 46 व अन्य प्रतिभाओं को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर राष्ट्रीय स्तर की खेल प्रतिभाओं, राजकीय सेवा में नवनियुक्त व सेवानिवृत कार्मिकों, राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सम्मान प्राप्त प्रतिभाओं का भी सम्मान किया गया। राजपूत अल्प बचत, साख एवं संस्कार समिति में नि:शुल्क सराहनीय सेवाएं देने वाले अनिल सिंह कानावत को सर्वश्रेष्ठ सामाज रत्न-2018 के पुरष्कार से नवाजा गया। इसी प्रकार इंद्रगढ़ तहसील प्रभारी बुद्धराज सिंह हाड़ा को सर्वश्रेष्ठ कार्यकर्ता, हिण्डोली के गणपत सिंह सोलंकी को सर्वश्रेष्ठ युवा कार्यकर्ता, बूंदी की चंद्रावती कंवर को सर्वश्रेष्ठ महिला कार्यकर्ता का पुरस्कार दिया गया।
आरएसडब्लूओ की नैनवां, हिंडोली व इंद्रगढ़ तहसील को सर्वश्रेष्ठ कार्यकारिणी के रूप में सम्मानित किया गया। सर्वश्रेष्ठ सामाजिक योगदान के लिए ओमेंद्र सिंह हाड़ा का सम्मान किया गया। श्रेष्ठ राजनीतिक रत्न के रूप में रेणु हाड़ा को चुना गया। इसी प्रकार नैनवां में आयोजित महाराणा प्रताप जयंती समारोह को सर्वश्रेष्ठ सामाजिक कार्यक्रम व बूंदी पुरासंपदा के संरक्षण के लिए अरिहंत सिंह शेखावत तथा हेमेंद्र प्रताप सिंह कानावत को नई सोच के समान पत्र से नवाजा गया। समारोह में साफा बांधों प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमें उमरथुणा के विजयराज सिंह हाड़ा प्रथम, पिंकी हाड़ा व अजीत सिंह हाड़ा द्वितीय तथा महिपाल सिंह तृतीय स्थान पर रहे।
पंकज कंवर हाड़ा ने दहेज प्रथा पर कविता प्रस्तुति की जिसे सभी ने सराहा। इस अवसर पर समाज की एक दर्जन जरूरतमंद महिलाओं को सिलाई मशीनें वितरित की गई। समारोह में मुख्य अतिथि इज्यराज सिंह हाड़ा ने कहा कि राजपूत समाज का गौरवशाली इतिहास रहा है तथा सभी समाजों को साथ लेकर चलना हमारी संस्कृति रही है। उन्होंने सामाजिक उत्थान के लिए महिलाओं को आगे आने व बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने की बात कही। सचिव पृथ्वी सिंह ने प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। वरिष्ठ उपाध्यक्ष राजेंद्र सिंह झाला ने स्वागत भाषण तथा जिलाध्यक्ष आनंदराज सिंह हाड़ा ने धन्यवाद ज्ञापित किया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned