scriptinternational monetary fund imf managing director kristalina georgieva on inflation making people poorer tuts | कोरोना के बाद अब महंगाई की मार, सात करोड़ लोग होंगे गरीब, IMF ने दी ये चेतावनी | Patrika News

कोरोना के बाद अब महंगाई की मार, सात करोड़ लोग होंगे गरीब, IMF ने दी ये चेतावनी

कोरोना महामारी के बाद अब पूरी दुनिया अब महंगाई का मार झेल रही है। इसी बीच अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) की ओर से और बुरी खबर दी गई है। IMF के MD क्रिस्टालिना जियॉर्जिएवा की ओर से बताया गया है कि सात करोड़ लोग गरीब होंगे।

नई दिल्ली

Published: July 21, 2022 12:01:13 pm

पूरी दुनिया की आर्थिक चुनौतियां कम होने का नाम नहीं ले रही है। पहले कोरोना महामारी के कारण दुनिया भर के देशों की अर्थव्यवस्था मुश्किल हालात में पहुंच गई। वहीं अब दुनिया भर के कई देश महंगाई के मार से परेशान हैं, जिसके कारण वैश्विक आर्थिक मंदी का खतरा मंडराते हुए दिखाई दे रहा है। इसी बीच अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) के प्रमुख क्रिस्टिलीना जिर्योजिएवा ने एक ब्लॉग के जरिए महंगाई की मार को लेकर एक चेतावनी दी है, जो पूरी दुनिया की चिंता बढ़ाने वाली है।
international-monetary-fund-imf-managing-director-kristalina-georgieva-on-inflation-making-people-poorer-tuts.jpg
international monetary fund imf managing director kristalina georgieva on inflation making people poorer tuts
क्रिस्टिलीना जिर्योजिएवा ने ब्लॉग के जरिए कहा कि साल 2022 मुश्किल भरा होगा और साल 2023 और भी अधिक मुश्किल भरा होने वाला है। इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि महंगाई से लोगों को जल्द राहत नहीं मिलने वाली है। इसकी वजह से दुनिया भर के गरीब देशों के 7 करोड़ लोग गरीब हो जाएंगे।

कई देशों में समाज के स्तर पर आ सकती है अस्थिरता

अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष के MD क्रिस्टालिना जियॉर्जिएवा ने ब्लॉग के जरिए बढ़ती हुई महंगाई का जिक्र किया है। उन्होंने चिंता जताते हुए कहा कि पूरे दुनिया भर में महंगाई उच्चतम स्तर पर बनी हुई है। वहीं रूस और यूक्रेन के बीच जारी युद्ध ने इसे और अधिक बढ़ाया है। अधिकांस गरीब देश 5% से अधिक महंगाई का सामना कर रहे हैं। आने वाले समय में महंगाई की स्थिति और बुरी हो सकती है। इसके कारण कई देशों में समाज के स्थर में अस्थिरता आ सकती है।

वैश्विक ऊर्जा संकट हो सकता है ट्रिगर

क्रिस्टालिना जियॉर्जिएवा ने कहा कि यूरोप में प्राकृतिक गैस की आपूर्ति में व्यवधान कई देशों की अर्थव्यवस्थाओं को मंदी की ओर ले जा सकता है, जो वैश्विक ऊर्जा संकट को ट्रिगर कर सकता है। इसके कारण 2022 मुश्किल भरा होगा और संभवत:2023 में मंदी के जोखिम बढ़ेगे। इसके साथ ही प्रमुख केंद्रीय बैंकों ने और अधिक मौद्रिक सख्ती की घोषणा की है, जो आवश्यक है लेकिन इससे महंगाई बढ़ेगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar Political Crisis Live Updates: नीतीश कुमार ने दिया इस्तीफा, 160 विधायकों के साथ नई सरकार बनाने का दावा किया पेशBihar Political Crisis: नीतीश कुमार ने दिया इस्तीफा, अब महागठबंधन के साथ बनाएंगे सरकारBihar Political Crisis: नीतीश कुमार ने इस्तीफा सौंपने के बाद कहा - 'बीजेपी के साथ एक नहीं कई दिक्कतें थीं''मुफ्त रेवड़ी' कल्चर मामले में सुप्रीम कोर्ट में आमने-सामने AAP और BJP, आम आदमी पार्टी ने कहा- PM मोदी ने 'दोस्तवाद' के लिए खाली किया देश का खजानाMaharashtra Cabinet Expansion: कौन है सीएम शिंदे की नई टीम में शामिल 18 मंत्री? तीन पर लगे है गंभीर आरोपMaharashtra: सीएम एकनाथ शिंदे अपनी ‘मिनी’ टीम का सितंबर में करेंगे विस्तार, सामने आई यह बड़ी अपडेटगुजरात के जामनगर में मुहर्रम पर बड़ा हादसा, ताजिया जुलूस में करंट लगने से दो की मौत, कई घायललालू-नीतीश की दोस्ती से ढह जाते हैं सारे समीकरण, जानिए फिर कैसे कम हुई दोनों के बीच दूरियां
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.