सोमवार को भारत नेट फेज- 2 की लॉन्चिंग, 1.50 लाख पंचायत होंगे ब्रॉडबैंड से कनेक्ट

प्लान के तहत 2019 तक सभी पंचायतों को हाईस्पीड ब्रॉडबैंड से जोड़ा जाएगा। रविवार को टेलीकॉम सचिव अरुणा सुंदराजन ने ये जानकारी दी।

By: Prashant Jha

Published: 12 Nov 2017, 07:44 PM IST

नई दिल्ली: देश को हाईस्पीड ब्रॉडबैंड कनेक्शन से जोड़ने के लिए केंद्र सरकार लगातार प्रयास कर रही है। इसी संदर्भ में सरकार भारत नेट को विस्तार देने में जुटी है। सोमवार को केंद्र सरकार भारत नेट फेज-2 लॉन्च करने जा रही है। इसके लिए 34 हज़ार करोड़ रुपए आवंटित किए जाएंगे। प्लान के तहत 2019 तक सभी पंचायतों को हाईस्पीड ब्रॉडबैंड से जोड़ा जाएगा। रविवार को टेलीकॉम सचिव अरुणा सुंदराजन ने ये जानकारी दी।

मनोज सिन्हा करेंगे प्रोजक्ट को लॉन्च

टेलिकॉम मिनिस्‍टर मनोज सिन्‍हा, कानून एंड आईटी मिनिस्‍टर रविशंकर प्रसाद और मानव संसाधन विकास मिनिस्‍टर प्रकाश जावड़ेकर इस प्रोजेक्‍ट को लॉन्‍च करेंगे।

1.5 लाख पंचायत को ऑपटिक्ल फाइबर से जोड़ने का लक्ष्य

इस योजना के तहत सरकार ग्रामीण क्षेत्रों में 10 लाख किलोमीटर में 1.5 लाख पंचायत को ऑप्टिकल फाइबर से जुड़ने का लक्ष्य रखा है। साथ ही टेलीकॉम कंपनियों को ग्रामीण क्षेत्रों में करीब 75 फीसदी सस्ता ब्रॉडबैंड और वाईफाई देना है।

इस साल के अंत तक नेट फेज-1 होगा पूरा
सुंदरराजन ने कहा, ''हम कल (सोमवार को) भारतनेट का फेज-2 लॉन्‍च करेंगे। इससे मार्च 2019 तक 1.5 लाख ग्राम पंचायतों को हाई-स्‍पीड ब्रॉडबैंड से जोड़े जाएंगे। भारत नेट फेज-1 इस साल के अंत तक पूरा होने की संभावना है। इसके तहत एक लाख ग्राम पंचायतों को जोड़ा गया है। सुंदरराजन ने कहा उम्‍मीद है कि टेलिकॉम ऑपरेटर्स ग्रामीण घरों में कम से कम 2 मेबाबिट प्रति सेकंड की स्‍पीड से इंटरनेट सर्विस उपलब्‍ध कराएंगे। दूरसंचार मंत्री इस प्रोजेक्‍ट के लिए सात राज्‍यों- महाराष्‍ट्र, गुजरात, छत्‍तीसगढ़, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, तमिलनाडु और झारखंड के साथ समझौता करने जा रही है। जिसमें राज्‍यों को अपना खर्ज करना होगा।


45,000करोड़ का है कुल प्रोजेक्‍ट

दूरसंचार सचिव सुंदरराजन ने कहा कि भारतनेट प्रोजेक्‍ट की कुल लागत करीब 45 हजार करोड़ रुपए है। इसमें से 11,200 करोड़ रुपए फेज-1 के तहत इस्‍तेमाल किए गए हैं।जो इस साल के अंत तक पूरे कर लिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि देश में ग्रामीण बदलाव के बाद जब टेलिकॉम सर्विसेज शुरू हुई थी तब यह सबसे बड़ा प्रोजेक्‍ट है। इस पूरे प्रोजेक्‍ट के लिए देश में बने प्रोडक्‍ट्स का इस्‍तेमाल किया गया है।

GDP में जुड़ेंगे 4.5 लाख करोड़
दूसरसंचार सचिव सुंदरराजन ने कहा कि भारतनेट फेज- 2 के पूरा होने के बाद देश की जीडीपी में करीब 4.5 लाख करोड़ वैल्यू जुड़ जाएगी। .एक अध्‍ययन के मुताबिक भारत में इंटरनेट का प्रत्‍येक 10 फीसदी इस्‍तेमाल होने पर जीडीपी में 3.3 फीसदी की बढ़ोतरी आती है।

बीएसएनएल ऑप्टिकल फाइबर लाइन शुरू

गौरतलब है कि बीएसएनएल ऑप्टिकल फाइबर लाइन शुरू करने पर विचार कर रहा है। यह लाइन 8 राज्‍यों से होकर गुजरेगी। जिसमें असम, पश्चिम बंगाल जम्मू कश्मीर हरियाण, मध्य प्रदेश समेत राज्य शामिल है। बता दें कि इन राज्यों में भारत नेट 1 फेज नहीं पहुंचा है।

bsnl
Prashant Jha
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned