चंदौली के नक्सल प्रभावित क्षेत्र नौगढ़ के जंगल में मिला बम

चंदौली के नक्सल प्रभावित क्षेत्र नौगढ़ के जंगल में मिला बम
चंदौली के नक्सल प्रभावित क्षेत्र नौगढ़ के जंगल में मिला बम

Sunil Yadav | Publish: Nov, 24 2017 11:24:09 AM (IST) Chandauli, Uttar Pradesh, India

इसी क्षेत्र में नक्सलियों ने 2004 में पीएसी के जवानों का ट्रक विस्फोटक से उड़ा दिया था, इस घटना में 18 जवान शहीद हो गए थे।

चंदौली. नक्सल प्रभावित नौगढ़ थानान्तर्गत राजदरी जलप्रपात से 2 किलोमीटर दूर चंद्रप्रभा रेंज के धुसरीया बीट के जंगल में गुरुवार को बम मिलने की सूचना पर पुलिस विभाग मे हड़कमंप मंच गई। सूचना के बाद देर रात घटना स्थल पर पहुंचे बम निरोधक दस्ते ने बम को निष्क्रिय कर देर रात तक सर्च अभियान चलाया। वहीं दूसरी ओर बम मिलने की घटना पर क्षेत्र में एक बार फिर नक्सली गतिविधियों को बढ़ने से भी जोड़ कर देखा जा रहा है।

 

प्राप्त जानकारी के अनुसार गुरुवार नक्सल प्रभावित नौगढ़ थानान्तर्गत राजदरी जलप्रपात से 2 किलोमीटर दूर चंद्रप्रभा रेंज के धुसरीया बीट के जंगल में वनकर्मियों ने स्टील के डिब्बे में बम को देखा । इसकी सूचना उन्होंने पुलिस के आला अधिकारियों की दी। जिसके बाद सीआरपीएफ के कंपनी कमांडर विनोद सिंह से विभाग ने संपर्क किया गया।तो वह पुलिस अधीक्षक को जानकारी देते हुए मौके की ओर रवाना हो गए। डाग स्क्वायड और बम निरोधक दस्ता के साथ मौके पर पहुंचे और बम होने की पुष्टि की साथ ही उसकी क्षमता परखने के लिए बम को ब्लास्ट कराने का निर्णय लिया। लोकिन बम फटा नहीं, जिसके बाद पुलिस एवं CRPF के जवानों ने राहत की सांस ली।


गौरतलब है कि इसी क्षेत्र में नक्सलियों ने 2004 में पीएसी के जवानों का ट्रक विस्फोटक से उड़ा दिया था इस घटना में पीएसी के 18 जवान शहीद हो गए थे। घटना बाद CRPF ने कई अभियान चलायें, जिसके बाद से इस क्षेत्र में नक्सली गतिविधियां कम हो गई थी। वहीं बम मिलने की सूचना के बाद स्थानीय लोग एक बार फिर क्षेत्र में नक्सली मूवमेंट के बढ़ने की आशंका जता रहे है।


बम मिलने की सूचना पर मौके पर पहुंचे अपर पुलिस अधीक्षक नक्सल वीरेंद्र कुमार यादव व पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने मौके पर मुआयना करने बाद जांच के आदेश दिए है कि यहां बम कैस पहुंचा।

 

Input- महेंद्र प्रजापति

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned