script2 Nigerians arrested for cheating in Chennai | 2.87 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के आरोप में दो नाइजीरियाई नागरिक गिरफ्तार | Patrika News

2.87 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के आरोप में दो नाइजीरियाई नागरिक गिरफ्तार

locationचेन्नईPublished: Feb 12, 2024 07:40:13 pm

Submitted by:

PURUSHOTTAM REDDY

11 फरवरी को एग्मोर में मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट कोर्ट के सामने पेश किए जाने के बाद उन्हें चेन्नई के पुझल सेंट्रल जेल भेज दिया गया।

2.87 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के आरोप में दो नाइजीरियाई नागरिक गिरफ्तार
2.87 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के आरोप में दो नाइजीरियाई नागरिक गिरफ्तार

चेन्नई.

ग्रेटर चेन्नई पुलिस (जीसीसी) ने चेन्नई की एक महिला से कथित तौर पर 2.87 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी करने के आरोप में दो नाइजीरियाई नागरिकों को गिरफ्तार किया है। उन्होंने यह धोखाधड़ी एक वैवाहिक वेबसाइट के माध्यम से की थी। आरोपियों की पहचान नई दिल्ली निवासी 29 वर्षीय ऑगस्टीन मदुबुची और 36 वर्षीय चिनेदु के रूप में हुई। दोनों को 7 फरवरी को गिरफ्तार किए जाने के बाद उनके पास से 7 मोबाइल फोन, 3 लैपटॉप और 40 डेबिट कार्ड भी जब्त किए गए हैं। 11 फरवरी को एग्मोर में मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट कोर्ट के सामने पेश किए जाने के बाद उन्हें चेन्नई के पुझल सेंट्रल जेल भेज दिया गया।

केके नगर की महिला के साथ घटी घटना
महानगर पुलिस के मुताबिक केके नगर निवासी पीडि़ता ने पिछले साल दिसंबर में जीसीपी की साइबर अपराध शाखा में शिकायत दर्ज कराया कि एक वैवाहिक वेबसाइट के माध्यम से इनके संपर्क में आई और उनके बीच बाचतचीत होने लगी। इस दौरान आरोपी ने कथित तौर पर महिला से शादी करने का प्रस्ताव रखा और चेन्नई में उससे मिलने का वादा किया। इसके बाद उसने महिला को उसके पते पर बहुमूल्य उपहार भेजने के बारे में बताया। यह सूचना मिलने के बाद एक व्यक्ति ने पीडि़ता को फोन करके बताया कि वह नई दिल्ली हवाई अड्डे पर सीमा शुल्क कार्यालय में है और उपहार का पार्सल छुड़ाने के लिए उसे पैसों की जरूरत है। महिला ने उसकी बात पर भरोसा करके अपने बैंक खाते से उसे 2.87 करोड़ रुपये का भुगतान कर दिया। दो महीने बाद जब महिला को अपने साथ धोखाधड़ी होने का एहसास हुआ तो उसने इसकी शिकायत पुलिस में दर्ज कराई।

फर्जी बैंकखातों में जमा कराए गए पैसे

जांच के बाद पुलिस को बैंक खातों से संबंधित केवाईसी के विवरण से पता चला कि खाते दक्षिण दिल्ली, मेघालय, केरल, गुजरात, झारखंड, मध्य प्रदेश, पश्चिम बंगाल, मणिपुर और मिजोरम में फर्जी नामों पंजीकृत थे। इसके अलावा धन निकासी के लिए नई दिल्ली के उत्तम नगर, मोहन गार्डन और द्वारका के पास एटीएम और नेट बैंकिंग सुविधाओं का उपयोग किया गया था। नई दिल्ली में उत्तम नगर, मोहन गार्डन और द्वारका के पास एटीएम से निकासी और संबंधित नेट बैंकिंग सुविधाओं का उपयोग किया गया था।

इस धोखाधड़ी पर टिप्पणी करते हुए महानगर पुलिस ने कहा कि पीड़ितों से पहले शादी के झूठे वादे दिए जाते हैं और उसे उपहार घोटाले में फंसाया जाता है। इसके बाद जालसाज उसे कूरियर के माध्यम से एक मंहगा पार्सल भेजने की बात करता है। इसके बाद महिला को सीमा शुल्क अधिकारियों के नाम से फर्जी फोन आते हैं और उससे निकासी शुल्क, जुर्माना आदि के बहाने विभिन्न बैंक खातों में पैसे का भुगतान करने के लिए कहा जाता है।

 

ट्रेंडिंग वीडियो