एमआरटीएस ट्रेक पर सीमेंट का स्लैब रखने के आरोप में 3 नाबालिग गिरफ्त में

एमआरटीएस ट्रेक पर सीमेंट का स्लैब रखने के आरोप में 3 नाबालिग गिरफ्त में

Purushotham Reddy | Publish: Sep, 08 2018 12:55:31 PM (IST) Chennai, Tamil Nadu, India

लडक़ों ने पहले स्लैब को हाथ से तोडऩे की नाकाम कोशिश की लेकिन वह टूटा नहीं इसलिए उसे रेलवे ट्रेक पर छोड़ दिया ताकि उस पर ट्रेन के गुजरने से वह टूट जाए और उसमें से निकलने वाला लोहा बेचा जा सके।

 

 

 

 

चेन्नई. उपनगरीय बीच-वेलचेरी एमआरटीएस रेलवे ट्रेक पर सीमेंट का स्लैब रखने के आरोप में एगमोर रेलवे पुलिस ने 3 नाबालिगों को गिरफ्तार किया है।
पुलिस ने बताया कि इन लडक़ों का उद्देश्य किसी को हानि पहुंचाना नहीं था। वे स्लैब को तोडक़र उसमें भरा हुआ लोहा निकालकर 200 रुपए में बेचना चाहते थे ताकि वे अपने दोस्त का जन्मदिन मना सकें।
इन लडक़ों की आयु 15 और 16 साल है और ये तरमणी स्थित आईटीआई के छात्र हैं। इनमें से दो पेरंगुडी और एक कुंड्रत्तुर निवासी हैं। 4 सितबंर को लडक़ों ने पहले स्लैब को हाथ से तोडऩे की नाकाम कोशिश की लेकिन वह टूटा नहीं इसलिए उसे रेलवे ट्रेक पर छोड़ दिया ताकि उस पर ट्रेन के गुजरने से वह टूट जाए और उसमें से निकलने वाला लोहा बेचा जा सके। घटना क्षेत्र के पास ही शराब की दुकान होने से पुलिस को पहले तो इस घटना में बदमाशों का हाथ होने का अंंदेशा हुआ। आसपास की कबाड़ की दुकानों पर पूछताछ करने पर आरोपियों का पता चला।
पिछले एक हफ्ते में पेरंगुड़ी तरमणी रेलवे ट्रेक पर स्लैब मिलने की यह दूसरी घटना है। मंगलवार रात को एक उपनगरीय ट्रेन के लोको पायलट ने ट्रेक पर स्लैब देखकर लोकल ट्रेन रोक दी थी। इन स्लैब्स का इस्तेमाल रेलवे ट्रेक के पास सिग्रल और केबल को ढंकने के लिए किया जाता है और इसका वजन लगभग 20 किलो होता है। पुलिस ने बताया कि इन लडक़ों का उद्देश्य किसी को हानि पहुंचाना नहीं था। वे स्लैब को तोडक़र उसमें भरा हुआ लोहा निकालकर 200 रुपए में बेचना चाहते थे ताकि वे अपने दोस्त का जन्मदिन मना सकें। लडक़ों ने पहले स्लैब को हाथ से तोडऩे की नाकाम कोशिश की लेकिन वह टूटा नहीं इसलिए उसे रेलवे ट्रेक पर छोड़ दिया ताकि उस पर ट्रेन के गुजरने से वह टूट जाए और उसमें से निकलने वाला लोहा बेचा जा सके।

लडक़ों पर रेलवे संपत्ति का नुकसान पहुंचाने के आरोप में रेलवे कानून की धारा 151 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

Ad Block is Banned