ईमानदारी से काम करें व्यापारी

ईमानदारी से काम करें व्यापारी
- तमिलनाडु पॉन ब्रोकर्स एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन के प्रदेशाध्यक्ष स्वामी तेजानन्द महाराज ने कहा

By: Ashok Rajpurohit

Published: 06 Feb 2021, 08:36 PM IST

चेन्नई. गिरवी व ज्वैलरी व्यापारी ईमानदारी के साथ व्यापार करें तथा अपनी दुकान में सीसीटीवी कैमरे जरुर लगाएं। किसी अनजान व्यक्ति से सोने के आभूषण गिरवी नहीं रखे। तमिलनाडु पॉन ब्रोकर्स एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन के प्रदेशाध्यक्ष स्वामी तेजानन्द महाराज ने यह बात कही। वे यहां आवड़ी में एसोसिएशन की आवड़ी इकाई की वार्षिक मीटिंग में बोल रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि ईमानदारी और परस्पर सहयोग से कानून के दायरे में रहकर मिलजुल कर व्यापार करें।
स्वामी तेजानन्द महाराज ने कहा कि जो भी व्यापारी संगठन से अब तक नहीं जुड़े हैं वे जल्द से जल्द संगठन के सदस्य बनें और एकता के भागीदार बनें। संगठन को मजबूत बनाने की दिशा में काम किया जाएं। व्यापारी एकता बहुत जरूरी है। उन्होंने आवड़ी इकाई की तारीफ करते हुए कहा कि यहां व्यापारी एक दूसरे के सहयोग के साथ आगे बढ़ रहे हैं। यह खुशी की बात है। इस अवसर पर एसोसिएशन की आवड़ी इकाई का चुनाव करवाया गया।

सोहनलाल प्रजापत आवड़ी इकाई के अध्यक्ष

अध्यक्ष पद पर सोहनलाल प्रजापत फिर से निर्विरोध अध्यक्ष चुने गए। इसके साथ ही अतुल शर्मा सचिव तथा मंगलाराम सीरवी को कोषाध्यक्ष चुना गया। इस मौके पर स्वामी तेजानन्द महाराज ने आवडी क्षेत्र के सदस्यों को एसोसिएशन के पहचान पत्रों का वितरण किया।
इस अवसर पर प्रदेश उपाध्यक्ष आनंदप्रकाश शर्मा, प्रदेश महासचिव नरेशपुरी गोस्वामी, प्रदेश कोषाध्यक्ष ए.जी. श्याम भाटी, प्रदेश संस्थापक जयरामजी देवासी, प्रदेश उपाध्यक्ष भबूतराम कुलकधाणिया, संगठन के मिडीया विभाग सचिव आर प्रवीणकुमार राठौड़ प्रदेश सह-सचिव एम. रमेशकुमार सेन, आवङी शाखा के अध्यक्ष सोहनलाल प्रजापत, सचिव अतुल शर्मा, कोषाध्यक्ष मंगलाराम सीरवी समेत अन्य पदाधिकारी व सदस्य मौजूद थे।
इसके साथ ही क्रोमपेट, तिरुमंगलम, अन्नानगर, कोयलमबाक्कम समेत अन्य इलाकों में भी एसोसिएशन के सदस्यों को एसोसिएशन के पहचान पत्र वितरण का कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस दौरान सदस्यों ने अपने सुझाव भी दिए।
................

Ashok Rajpurohit
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned