अनुभव आधारित शिक्षण पर विचार करें महाविद्यालय

अनुभव आधारित शिक्षण पर विचार करें महाविद्यालय

Santosh Tiwari | Publish: Mar, 17 2019 06:11:43 PM (IST) Chennai, Chennai, Tamil Nadu, India

आईआईटी मद्रास में उद्यमिता सम्मेलन

चेन्नई. पीएएलएस (द पैन आईआईटी एलुमनी लीडरशिप सिरीज) की ओर से इन्टरप्रीन्यूरियल सम्मिट तथा समापन समारोह का आयोजन आईआईटी मद्रास में किया गया। इस सम्मेलन का विषय आवर एकेडमिक इंस्टीट्यूशंस आर गोल्ड माइन्स फॉर नरचरिंग बडिंग इन्टरप्रीन्यूर्स है। समारोह के मुख्य अतिथि आईएएस डा.वी.इरै अन्बू थे। उन्होंने कहा कि शैक्षणिक वातावरण रचनात्मकता की अभिव्यक्ति के अनुकूल बनाया जाना चाहिए। साथ ही ई-सेल में शिक्षकों की नियुक्ति होनी चाहिए।

विशिष्ट अतिथि आईआईटी मद्रास के निदेशक प्रो.भास्कर राममूर्ति थे। उन्होंने प्रायोगिक अधिगम की महत्ता पर बल दिया। साथ ही कहा कि महाविद्यालय ऐसी विधियों पर विचार करें। उन्होंने कहा कि पाठ्यक्रम एवं प्रायोगिक ज्ञान के बीच की खाई को पाटने की जरूरत है। यदि 15 प्रतिशत भी इंजीनियरिंग के छात्र उद्यमी बनते हैं तो भारत का चेहरा बदल जाएगा। पीएएलएस ऑल आईआईटी एलुमनी की शैक्षणिक पहल है। सम्मेलन के मुख्य वक्ताओं में पीएएलएस के चेयरमैन मोहन नारायणन ने इसके 28 पार्टनर संस्थान हैं। इस साल 12 कार्यक्रम किए गए हैं। इसके बाद पुरस्कार तथा प्रमाण पत्र वितरण का कार्यक्रम आयोजित किया गया।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned