डाक विभाग की परीक्षा क्यों हुई रद्द?

डाक विभाग की परीक्षा क्यों हुई रद्द?

MAGAN DARMOLA | Publish: Jul, 23 2019 07:16:46 PM (IST) Chennai, Chennai, Tamil Nadu, India

High Court का प्रश्न : मद्रास उच्च न्यायालय ने प्रश्न किया है कि Tamilnadu में आयोजित डाक विभाग की परीक्षा क्यों निरस्त की गई, न्यायालय ने केंद्र सरकार से पूछा कि परीक्षा निरस्त करने के पीछे क्या प्रशासनिक कारण थे?

चेन्नई. मद्रास उच्च न्यायालय ने प्रश्न किया है कि तमिलनाडु में आयोजित डाक विभाग की परीक्षा क्यों निरस्त की गई? गौरतलब है कि डाक विभाग की परीक्षाएं केवल हिन्दी और अंग्रेजी में ही होंगी का राज्यसभा में जमकर विरोध किया। तमिलनाडु के सांसदों के हंगामे के बाद केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने सरकार के परिपत्र को वापस लेते हुए सभी क्षेत्रीय भाषाओं में भी परीक्षा कराने की घोषणा करते हुए तमिलनाडु में १४ जुलाई को हुई डाक विभाग की परीक्षा को निरस्त कर दिया था।

इस सिलसिले में डीएमके विधायक एझिलअरसन की ओर से हाईकोर्ट में याचिका दायर कर सरकार के परिपत्र को चुनौती दी गई थी। पिछली सुनवाई के वक्त न्यायिक पीठ के जजों मणिकुमार व सुब्रमण्यम को सूचित किया गया था कि यह परिपत्र वापस ले लिया गया है।

उच्च न्यायालय ने मंगलवार को इस याचिका पर फिर सुनवाई की। डाक विभाग की ओर से दो शपथपत्र कोर्ट में पेश किए गए। न्यायिक पीठ ने इनको पढऩे के बाद प्रश्न किया कि इसमें प्रांतीय भाषा की जानकारी की बात है लेकिन कहीं भी क्षेत्रीय भाषा में परीक्षा का उल्लेख नहीं है।

केंद्र सरकार के सहायक सॉलिसिटर जनरल ने हाईकोर्ट को बताया कि डाक विभाग की भविष्य में परीक्षाएं किस तरह आयोजित होंगी इस पर चर्चा चल रही है। मंत्रालय की ओर से इस संबंध में विस्तृत जवाब पेश किया जाएगा।

न्यायाधीशों ने केंद्र सरकार से पूछा कि परीक्षा निरस्त करने के पीछे क्या प्रशासनिक कारण थे? केंद्र को पांच अगस्त तक रिपोर्ट पेश करने के निर्देश देते हुए न्यायालय ने याचिका पर सुनवाई टाल दी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned