गंभीर फेफड़ा संक्रमण से पीड़ित झारखंड के मंत्री जगरनाथ महतो हुए स्वस्थ

-फेफड़े का सफल प्रत्यारोपण

By: Santosh Tiwari

Updated: 21 Jan 2021, 07:55 PM IST

चेन्नई.
कोविड 19 के कारण फेफड़े के गंभीर संक्रमण से पीड़ित झारखंड सरकार के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो अब पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं। एमजीएम हेल्थकेयर ने उनका सफल बाइलेटरल लंग ट्रांसप्लांट किया। यह प्रत्यारोपण हास्पिटल के डा.के.आर.बालकृष्णन ने किया। उनकी टीम में डा.सुरेश राव, डा.श्रीनाथ एवं डा.अपर जिंदल शामिल थे। चिकित्सकों ने यहां आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि 54 वर्षीय मंत्री हाइपरटेंशन, डायबिटीज एवं कोरोनरी आर्टरी डिजीज से भी पीड़ित थे। इस कारण यह मामला विशेष रूप से चुनौतीपूर्ण हो गया था। कोरोना वायरस संक्रमण के कारण फाइब्रोसिस ने उनके फेफड़े को गंभीर रूप से क्षतिग्रस्त कर दिया था। धीरे-धीरे उनकी स्थिति खराब होने लगी एवं आक्सीजन सेचुरेशन कम होने लगा। एमजीएम से क्लिनिक टीम ने उनकी जांच की एवं उन्हें वेनो वोनोअस ईसीएमओ पर रखा गया। इसके बाद उन्हें एडवांस क्लिनिकल केयर के लिए एमजीएम हेल्थकेयर चेन्नई लाया गया। 28 अक्टूबर को उनका ट्रेकोस्टोमाइज किया गया। सीटी स्कैन में फेफड़े में कोई सुधार नहीं दिखने पर उन्हें फेफड़ा ट्रांसप्लांट प्रोग्राम के तहत सूचीबद्ध किया गया। 10 नवम्बर को उनका बाइलेटरल फेफड़ा प्रत्यारोपण किया गया। डा.बालाकृष्णन ने कहा कि हमने कुछ त्वरित फैसले लिए ताकि सेफ्टी सुनिश्चित हो। हमने सभी विकल्पों पर विचार करने के बाद ट्रांसप्लांट का फैसला लिया। अब उनका फेफड़ा बेहतर काम कर रहा है। आक्सीजन स्तर में सुधार के साथ इसीएमओ को हटा दिया गया है। इसके बाद 1 जनवरी को ट्रेकियोस्टोमी को भी हटा दिया गया। एमजीएम हेल्थकेयर के निदेशक डा.प्रशांत राजगोपालन ने भी विचार व्यक्त किए। इस मौके पर सीईओ हरीश मणियन भी उपस्थित थे।

Santosh Tiwari Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned