मंत्री विजयभास्कर बने पार्टी के संगठन सचिव

मंत्री विजयभास्कर बने पार्टी के संगठन सचिव

Ritesh Ranjan | Publish: Sep, 16 2018 06:07:46 PM (IST) Chennai, Tamil Nadu, India

पार्टी संगठन सचिवों की संख्या हुई 38

चेन्नई. गुटखा घोटाला मामले में डीएमके सहित अन्य विपक्षी दलों द्वारा जहां स्वास्थ्य मंत्री सी. विजयभास्कर के इस्तीफे की मांग की जा रही है वहीं पार्टी ने उनमें विश्वास दिखाते हुए संगठन सचिव बना दिया है।
यहां जारी एक संयुक्त विज्ञप्ति में मुख्यमंत्री एडपाडी के. पलनीस्वामी और उपमुख्यमंत्री ओ. पन्नीरसेल्वम ने नियुक्ति की घोषणा की। साथ ही पूर्व स्पीकर पी.एच. पांडियन को कानूनी सलाहकार नियुक्त किया गया। विजयभास्कर के अलावा पूर्व मंत्री ए. पप्पासुंदरम और मदुरै उपनगरीय के पूर्व विधायक और पूर्व जिला सचिव एम. मुत्तुरामलिंगम को भी संगठन सचिव नियुक्त किया गया। इस नियुक्ति के बाद पार्टी के संगठन सचिवों की संख्या ३८ पहुंच गई।

इसके अलावा पूर्व सांसद कांची पन्नीरसेल्वम को संयुक्त सचिव नियुक्त किया गया। पार्टी मुख्यालय में हुई पार्टी की उच्च स्तरीय बैठक के बाद नियुक्ति की घोषणा की गई है। उल्लेखनीय है कि गुरुवार को भी इस प्रकार की बैठक हुई थी। जिसके बाद पार्टी द्वारा जारी विज्ञप्ति में पार्टी में विभिन्न पदों के लिए ३५ लोगों की नियुक्ति की घोषणा की गई थी। पिछले दो दिनों से पार्टी के पदों में हो रहे फेरबदल ने राजनीतिक दलों के नेताओं को अचरज में डाल दिया है।
उल्लेखनीय है कि गुटखा घोटाला मामले के बाद से डीएमके के अध्यक्ष एम.के. स्टालिन सहित राज्य के अन्य विपक्षी दलों द्वारा स्वास्थ्य मंत्री और डीजीपी के इस्तीफा की मांग की जा रही है।


मुख्यमंत्री, कानून मंत्री का जताया आभार

चेन्नई. राजीव गांधी हत्याकांड के सजायाफ्ता सात कैदियों की रिहाई को लेकर राज्य सरकार द्वारा राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित से की गई सिफारिश के पांच दिन बाद संतानम नामक कैदी की मां महेश्वरी ने एक पत्र लिख मुख्यमंत्री एडपाडी के. पलनीस्वामी और कानून मंत्री सी. वी. षणमुगम का धन्यवाद किया। साथ ही महिला ने राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और राज्यपाल को भी पत्र लिख उनके बेटे की रिहाई का आग्रह किया, ताकि बचे हुए समय में वह अपने बेटे के साथ रह सके। मुख्यमंत्री और कानून मंत्री को लिखे पत्र में रिहाई को लेकर सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों के लिए धन्यवाद किया। उसने कहा कि सरकार के इस निर्णय के लिए उसका पूरा परिवार आभारी रहेगा।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned