200 रुपए किलो बिका प्याज

प्याज की कीमतें ग्राहकों को ही नहीं दुकानदारों को भी रुला रही है। अधिक दाम होने की वजह से लोग सब्जी मंडी में प्याज से नजरें बचा कर निकलने लगते हैं। madurai में रविवार को किलो भर प्याज200 रुपए में बिका।

By: MAGAN DARMOLA

Published: 08 Dec 2019, 09:21 PM IST

चेन्नई. प्याज के दाम अनियंत्रित रूप से बढ़ रहे हैं। मदुरै में रविवार को किलो भर प्याज २०० रुपए में बिका। ग्राहकों ने जब दाम सुने तो उनके होश उड़ गए। तमिलनाडु सरकार ने प्रस्ताव रखा है कि राशन की दुकान पर प्याज बेचे जाएंगे। केंद्र सरकार आयात की बात कह रही है लेकिन तुरंत राहत के कोई उपाय होते दिखाई नहीं देते।

आसमान छूते प्याज के दाम Onion price के बारे में नित्यवेणी कहती हैं कि रसोई का पूरा बजट बिगड़ गया है। सांभर और साग-सब्जी बिना प्याज के नहीं बनती। ऐसे में सप्ताह में ४०० रुपए का तो केवल प्याज ही आ रहा है। प्याज की कीमतें ग्राहकों को ही नहीं दुकानदारों को भी रुला रही है। अधिक दाम होने की वजह से लोग सब्जी मंडी में प्याज से नजरें बचा कर निकलने लगते हैं। दुकानदार कदीर की मानें तो जो ग्राहक 5 किलो प्याज खरीदते थे, वे अब 1 किलो खरीद कर चल देते हैं। काबिले गौर है कि प्याज के भाव में नरमी का कोई संकेत नहीं दिख रहा है। आयात और अन्य उपायों के दावों के बीच चेन्नई महानगर में छोटे प्याज शनिवार को २०० रुपए किलो बिके थे। प्याज के दाम का मसला संसद में भी बराबर गूंज रहा है। सरकार ने विश्वास दिलाया है कि आयातित प्याज की खेप 20 जनवरी तक आ जाएगी।

प्याज के बढ़ते दाम से पूरा देश सकते में है। अधिकांश राज्यों में प्याज सैकड़ा मार चुका है। तमिलनाडु के पड़ोसी राज्यों केरल और पुदुचेरी के अलावा आंध्रप्रदेश में भी यही हाल है। केंद्र व राज्य सरकार भी बढ़ रहे प्याज के दाम को लेकर चिंतित है

केंद्रीय उपभोक्ता मामलात राज्य मंत्री दानवे रावसाहेब दादाराव ने राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान कहा, इस बात में कोई शक नहीं कि प्याज की कीमतें बढ़ रही हैं। प्याज की कमी का मुख्य कारण बारिश की वजह से प्याज की फसल को होने वाला नुकसान है। सरकारी व्यापार एजेंसी एमएमटीसी को १.२ लाख टन प्याज आयात करने को कहा गया है, जो 20 जनवरी तक पहुंचना चाहिए।

केंद्र के अलावा तमिलनाडु सरकार भी स्थिति को संभालने की कोशिश कर रही है। तिरुवारुर में शनिवार को खाद्य मंत्री आर. कामराज ने जानकारी दी कि दिसम्बर के अगले सप्ताह से स्थिति सुधर जाएगी। तमिलनाडु की ६ हजार से अधिक राशन की दुकानों में कम कीमत पर प्याज बेचा जाएगा।

बढ़ते प्याज के भाव का असर महानगर के सबसे बड़ी सब्जी मंडी कोयम्बेडु में भी नजर आया। सब्जी खरीदने के गए उपभोक्ताओं ने प्याज के स्टाल से दूरी बनाए रखी। भले खुदरा बाजार में प्याज का भाव २०० रुपए तक बोला जा रहा है लेकिन कोयम्बेडु मंडी में कुछ स्टॉलों पर प्याज प्रति किलो ११५ रुपए बिक रहा था, इन स्टॉल्स पर खरीददारों की भीड़ नजर आई जबकि जिन स्टॉल्स पर प्याज १४० से १६० रुपए तक बिक बेचा जा रहा था लोग उनसे नजरें बचाकर निकलते नजर आए।जहां महानगर की प्रमुख मंडियों में प्याज का भाव सौ रुपए के पार नजर आया वहीं रेडहिल्स, कावांकरै, गुरुशांति नगर आदि के बाजार में मीडियम श्रेणी के प्याज का भाव ८० से ९० रुपए बेचा जा रहा था।

MAGAN DARMOLA
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned