अब सरल तरीके से सीखेंगे उच्चारण में कठिनाई महसूस करने वाले बच्चे

ऑनलाइन शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम

By: Ashok Rajpurohit

Published: 31 Jul 2020, 07:52 PM IST

चेन्नई. आईआईटी-मद्रास ने शब्दों के उच्चारण एवं वर्तनी में कठिनाई महसूस करने वाले बच्चों के निराकरण के लिए निशुल्क ऑनलाइन शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम तैयार किया है। आईआईटीएम-नेशनल प्रोग्राम आन टेक्नोलोजी इनहेंसड लर्निंग ने मद्रास डिसलेक्सिया एसोसिएसन से हाथ मिलाया है। यह कार्यक्रम ऐसे बच्चों की समस्याओं के निदान में मददगार बनेगा। केन्द्र सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय के स्वयंप्रभा टेलीविजन चैनल पर यह विशेष कार्यक्रम मुहैया करवाया गया है।
क्षमता को निखारेगा
यह कार्यक्रम डिजिटल प्रारूप में तैयार किया गया है ताकि दूरी व अवसंरचनात्मक बाधाएं न आएं। 26 जुलाई से 4 अगस्त के बीच इस पाठ्यक्रम का प्रसारण किया जा रहा है। विशिष्ट शिक्षण कठिनाइयों वाले बच्चों को सिखाने में यह पाठ्यक्रम मदद करेगा। उनकी क्षमता एवं वास्तविक प्रदर्शन के गेप को भरने का काम करेगा।
शैक्षणिक अंतर को भरेगा
मद्रास डिस्लेक्सिया एसोसिएशन पिछले 28 वर्ष से बुनियादी ढांचे को पूरा कर रहा है। इस कार्यक्रम से शिक्षकों को मदद मिलने से हजारों विद्यार्थियों का भविष्य संवर सकेगा। इससे बच्चों में शैक्षणिक अंतर को पूरा किया जा सकेगा।
....................................
छात्रों की सुविधा से समय का चयन
स्वयंप्रभा एक 33 डीटीएच चैनल का ग्रुप है। इसके तहत 24 घंटे शैक्षिक कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। अब नए कोन्टेन्ट के तहत छात्र अपनी सुविधा के अनुसार समय का चयन कर सकते हैं। एक दिन में पांच बार कार्यक्रम का दोहराव किया जा रहा है। इसमें आईआईटी, यूजीसी, एनसीईआरटी, इग्नू आदि से कोन्टेन्ट लिए गए हैं। स्वयंप्रभा शिक्षा के क्षेत्र में विद्यार्थियों को लगातार जागरूक करने का काम कर रहा है।
-प्रोफेसर के. मंगल सुन्दर, प्रमुख, रसायन शास्त्र विभाग, आईआईटी-मद्रास।
........................

Ashok Rajpurohit
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned