विज्ञान एवं तकनीकी के क्षेत्र में भारतीय समुदाय का मुकाबला नहीं

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) ने आईआईटी-मद्रास (Iit-m) के दीक्षांत समारोह में कहा, तमिलनाडु (Tamilnadu) एक शानदार जगह है। यहां की भाषा तमिल(Tamil) एक पुरानी भाषा है। दुनिया की प्राचीन भाषाओं (Language) में एक हैं तमिल (Tamil)।

चेन्नई. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आईआईटी-मद्रास के दीक्षांत समारोह में कहा कि भारतीय समुदाय में विज्ञान एवं तकनीकी के क्षेत्र में समूचे विश्व में अपना लोहा मनवाया है। हम अपने कौशल का इस्तेमाल करें तथा चाहे जहां रहें लेकिन भारत माता को कभी न भूलें।
प्रधानमंत्री एक दिवसीय दौरे पर चेन्नई में थे। उन्होंने कहा आईआईटी-मद्रास में कहा कि तमिलनाडु एक शानदार जगह है। यहां की भाषा तमिल एक पुरानी भाषा है। दुनिया की प्राचीन भाषाओं में एक हैं तमिल। संस्थान के स्नातक की डिग्री हासिल कर चुके युवाओं से उन्होंने कहा कि आपके इनोवेशन, उम्मीदें एवं तकनीक के उपयोग से हम भारत के कि विकसित राष्ट्र बनने का स्वप्न साकार कर सकते हैं।
भारत को महान बनाने के लिए आएं आगे
मोदी ने कहा कि भारत को महान बनाने का काम केवल सरकार का नहीं बल्कि भारत के 130 करोड़ लोगों की जिम्मेदारी बनती है। विश्व को भारत से बहुत उम्मीदे हैं। हम देश को उतना महान बनाएंगे कि यह पूरी दुनिया के लिए उपयोगी साबित होगा।
मांगे थे सुझाव
एक दिन पहले ही मोदी ने आईआईटी छात्रों एवं आईआईटी के पूर्व छात्रों से उनके भाषण को लेकर सुझाव मांगे थे। प्रधानमंत्री ने उनसे नमोएप पर विचार साझा करने के लिए कहा था।

Show More
Ashok Rajpurohit
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned