एक्सनोरा ने ग्रेटर चेन्नई कॉर्पोरेशन के साथ बांटे कपड़े के बैग

एक्सनोरा ने ग्रेटर चेन्नई कॉर्पोरेशन के साथ बांटे कपड़े के बैग

Mukesh Kumar Sharma | Publish: Jan, 14 2019 10:44:02 PM (IST) Chennai, Chennai, Tamil Nadu, India

राज्य सरकार द्वारा मंगलवार से राज्य में प्लास्टिक बंद कर दिया गया। इसके चलते न केवल सामान बेचने वाले दुकानदारों बल्कि खरीदारों को भी...

चेन्नई।राज्य सरकार द्वारा मंगलवार से राज्य में प्लास्टिक बंद कर दिया गया। इसके चलते न केवल सामान बेचने वाले दुकानदारों बल्कि खरीदारों को भी खासी परेशानी झेलनी पड़ रही है। इसका कारण यह रहा कि ज्यादातर लोगों को अभी तक प्लास्टिक बंद होने का पता ही नहीं चल पाया है तो अधिकांश लोग सामान लेने बाजार गए तो थैला लेकर नहीं गए जिससे उनको सामान लाने में खासी परेशानी का सामना करना पड़ा। प्लास्टिक की थैलियां बंद होने से लोगों को होने वाली परेशानी को ध्यान में रखते हुए एक्सनोरा इंटरनेशनल की उत्तरी चेन्नई यूनिट द्वारा मंगलवार से शहर के विभिन्न इलाकों में जागरूकता कार्यक्रम चालू कर कपड़े के थैलों का वितरण शुरू किया गया है।

संस्था ने ग्रेटर चेन्नई कॉर्पोरेशन के साथ मिलकर केके नगर के ११वें सेक्टर स्थित कॉर्पोरेशन पार्क में आयोजित एक कार्यक्रम में बैग्स का वितरण किया। कार्यक्रम में बतौर अतिथि कॉर्पोरेशन चेन्नई के स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी डा. टीजी श्रीनिवासन, तमिलनाडु के इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के मुख्य प्रबंधक (एचआर) के. कैलाश कांत, नेशनल ग्रीन कॉर्पोरेशन के को-ऑर्डिनेटर जी. तंगराज एवं एक्सनोरा ग्रेटर चेन्नई के प्रेसिडेंट आर. गोविंदराज एवं सचिव फतेहराज जैन ने हिस्सा लिया।

इस मौके पर डा. टीजी श्रीनिवासन ने कहा यह जागरूकता कार्यक्रम शहर के हर इलाके में चलाया जाएगा व बैग्स का वितरण किया जाएगा। कैलाश कांत ने कहा इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन इस बैग वितरण कार्य में पूरा सहयोग देगी। फतेहराज जैन ने प्लास्टिक बंद करने के लिए सरकार की प्रशंसा करते हुए कहा सरकार के इस कदम का सभी को सहयोग करना चाहिए।

प्लास्टिक बंद होने से पर्यावरण सुधरेगा एवं वातावरण को सही दिखा मिलेगी। प्लास्टिक की थैलियों को लोग कचरे में डाल देते हैं जिससे वातावरण के साथ ही जानवरों को भी नुकसान होता है क्योंकि वे उनके पेट में चली जाती हैं जिससे कई बीमारियां हो जाती हैं।

वातावरण की शुद्धता के लिए बदलाव बहुत जरूरी था। एक्सनोरा लंबे समय से इस बाबत जागरूकता लाने का कार्य करता आ रहा है। इसीलिए कपड़े के बैग को बढ़ावा दिया। कार्यक्रम में विद्यार्थियों एवं एक्सनोरा के कई पदाधिकारियों ने हिस्सा लिया।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned