श्रमिक एक्सप्रेस से 2344 मजदूरों की हुई घर वापसी

लॉकडाउन: प्रशासन ने की भोजन की व्यवस्था

 

छतरपुर. वैश्विक महामारी कोविड-19 के संक्रमण काल में लॉकडाउन के दौरान जम्मू-कश्मीर में फंसे प्रवासी मजदूरों की घर वापसी हो गई है। रेल मंत्रालय ने श्रमिक एक्सप्रेस ट्रेन द्वारा 2344 प्रवासी मजदूरों को कटरा रेलवे स्टेशन से 27 मई को रात्रि में छतरपुर रेलवे स्टेशन के लिए रवाना किया था। ट्रेन के दोपहर 12.30 बजे रेलवे स्टेशन छतरपुर पहुंचने पर प्रवासी मजदूरों की स्क्रीनिंग, स्वास्थ्य परीक्षण और रजिस्ट्रेशन करने के बाद बस द्वारा नाश्ता, खाना और पेयजल की व्यवस्था के साथ रवाना किया गया।
छतरपुर जिले के 2083 मजदूर वापस आए
श्रमिक एक्सप्रेस ट्रेन से आज दोपहर छतरपुर जिले के 2083 और अन्य 14 जिलों के 261 प्रवासी मजदूर वापस पहुंचे हैं। प्रशासन द्वारा मजदूरों को बसों के जरिए उनके गंतव्य के लिए रवाना किया गया। बिजावर के 338, बड़ामलहरा के 55, नौगांव के 36, महाराजपुर के 112, राजनगर के 1184, चंदला के 16, लवकुशनगर के 68, गौरिहार के 10, घुवारा के 1 और 263 स्थानीय प्रवासी मजदूरों को घर भेजा गया। मजदूरों को घर भेजने के पहले उनके स्वास्थ्य का परीक्षण कराया गया। साथ भोजन की भी व्यवस्था की गई थी।

हामिद खान Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned