छतरपुर का टीकमगढ़ से संपर्क कटा, पचेर घाट पर उफान पर आई धसान नदी

छतरपुर का टीकमगढ़ से संपर्क कटा, पचेर घाट पर उफान पर आई धसान नदी

rafi ahmad Siddqui | Publish: Sep, 03 2018 03:27:53 PM (IST) | Updated: Sep, 03 2018 03:27:54 PM (IST) Chhatarpur, Madhya Pradesh, India

बारिश का दौर लगातार जारी है

छतरपुर। बुंदेलखंड की पठारी धरती पर इस समय मानसून मेहरबान चल रहा है। बारिश का दौर लगातार जारी है। जिससे धसान नदी उफान पर आ गई है। टीकगढ़ जिले से छतरपुर की ओर प्रवाहित होकर आने वाली धसान नदी ईशानगर क्षेत्र के पचेर घाट पर उफान आ गई है। जिससे आसपास के इलाके में अलर्ट जारी करते हुए नगर रक्षा समिति व पुलिस के जवानों को तैनात किया गया है। साथ ही लोगों को नदी के आसपास न जाने की हिदायत दी गई है। धसान नदी के उफान के चलते छतरपुर का टीकमगढ़ से संपर्क कट गया है।
पिछले दिनों से लगातार हो रही बारिश के कारण जिले के सभी नदी-नाले उफान पर हैं अधिक बारिश होने के कारण आसपास के कई जगहों का परिवहन एवं आवागमन बधित हुआ है अधिक बारिश के चलते हैं छतरपुर एवं टीकमगढ़ को जोडऩे वाला पुल पचेर घाट धसान नदी में अधिक पानी होने के कारण उफान पर है। जिस कारण छतरपुर से टीकमगढ़ का संपर्क टूटा गया है। संपर्क टूटने के कारण टीकमगढ़ से छतरपुर आए और छतरपुर से टीकमगढ़ गए लोग रास्ते में ही फस गए। लोगों का कहना है कि अधिक बारिश के चलते धसान नदी अचानक उफान पर आ गई है। जिस कारण हम लोग फंस गए हैं। दोपहर करीब साढ़े १२ बजे से नदी के पचेर घाट में पानी का जल स्तर बढऩा शुरू हुआ। जो लगातार जारी है। हालात को देखते हुए पचेर घाट पर नगर रक्षा समिति के दो जवानों को तैनात किया गया है। इसके साथ ही आधा दर्जन से अधिक पुलिस जवानों की भी ड्यूटी लगाई है।

3 घंटे में शहर में दर्ज हुई साढ़े तीन इंच बारिश
नौगांव। पिछले तीन दिनों से शहर में काले बादल छाए थे और रिमझिम बारिश के बाद निकल जाते थे। हर जगह एक ही चर्चा सुनाई देती थी कि सभी जगह तेज बारिश हो रही है लेकिन नौगांव में बादल होने के बाबजूद पानी क्यों नहीं बरस रहा। इन्द्र देवता मेहरबान हुए। शनिवार को रिमझिम और थोड़ी देर तेज बारिश के साथ एक इंच बारिश दर्ज हुई। लेकिन रविवार को सुबह 4 बजे से तेज बारिश का दौर लगभग 7 बजे तक जारी रहा। मौसम विभाग के कालीचरण के अनुसार सुबह 3 घंटे की बारिश में 87 मिमी पानी गिरा यानी साढ़े तीन इंच बारिश दर्ज की गई। इसके साथ नौगांव में अब तक इस सीजन में 831 मिमी यानी 33.5 इंच बारिश रिकॉर्ड हो चुकी है। औसत बारिश के लिए लगभग 1000 मिमी की आवश्यकता है अर्थात 7 इंच से अधिक बारिश होने से औसत बारिश का आंकड़ा पूरा होगा। 30 इंच बारिश जब भी दर्ज होती है तो उसके कुछ दिनों बाद कुंओं में पानी आना शुरू होता है।

Ad Block is Banned