युवतियों ने ऐसा किया खेल का प्रदर्शन कि आप भी रह जाएंगे दंग

एक महीने से चल रहे ग्रीष्मकालीन खेल प्रशिक्षण शिविर के समापन समारोह में पहुंचे अफसर, खेल प्रतिभाओं ने किया बेहतर प्रदर्शन, पुरस्कार देकर किया सम्मानित

 

छतरपुर. खेल और युवा कल्याण विभाग छतरपुर द्वारा पिछले एक माह से चलाए जा रहे ग्रीष्मकालीन खेल प्रशिक्षण शिविर का समापन शनिवार को समारोह पूर्वक हो गया। इस मौके पर खेल प्रतिभाओं को सम्मानित किया गया। खेलों का प्रशिक्षण देने वाले कोचों का भी सम्मान किया गया। समारोह में कलेक्टर मोहित बुंदस, एसपी तिलक सिंह और जिला पंचायत सीईओ हर्ष दीक्षित सहित प्रजापिता ब्रह्माकुमारी आश्रम के मुख्य प्रशासिका बीके शैलजा अतिथि के रूप में मौजूद थे।

कार्यक्रम की शुरुआत में अतिथियों का स्वागत जिला खेल और युवा कल्याण अधिकारी प्रदीप अबिद्रा और सभी खेलों के प्रशिक्षकों द्धारा किया गया। बीके शैलजा ने इस मौके पर कहा कि ये शिविर बच्चों को शरीर के स्वास्थ्य के साथ-साथ उन्हे एक बेहतर खिलाड़ी बनाने का प्रशंसनीय प्रयास है। उन्होंने सभी खिलाडिय़ों को आगे बढऩे का संदेश दिया। जिला पंचायत सीईओ हर्ष दीक्षित ने कहा कि सभी खिलाड़ी अपने प्रशिक्षक के निर्देशन में बेहतर खिलाड़ी और एक जुम्मेदार नागरिक बने, ऐसी मेरी सभी से अपील है। पुलिस अधीक्षक तिलक सिंह ने अपने कहा कि आज के इस शिविर में बड़ी संख्या में खिलाडिय़ों की उपस्थिति निश्चित ही आयोजकों एवं उनके प्रशिक्षकों की मेहनत का परिणाम है। उन्होंने मलखम्ब एवं जूडो के खिलाडिय़ों द्धारा किए गए प्रदर्शन को अदभुत बताया तथा भाग ले रही बेटियों को निरन्तर बढऩे के लिए प्रेरित किया। मुख्य अतिथि कलेक्टर मोहित बुंदस ने कहा कि ऐसा जीवंत प्रदर्शन मैंने अपने जीवन में पहली बार देखा है जो अचंभित करने वाला और खिलाडिय़ों का कौशल देखते ही बनता है। इसके लिए इनके प्रशिक्षक बहुत-बहुत बधाई के पात्र है।

सचिव प्रदीप अबिद्रा ने प्रस्तुत करते हुए बताया कि जिला मुख्यालय पर शिविर का आयोजन 10 मई से 8 जून तक स्थानीय बाबूराम चतुर्वेदी स्टेडियम एवं सरस्वती स्कूल में फुटबॉल, बेसबॉल, बॉंस्केटबॉल, मलखम्ब, जूडो, बैडमिन्टन, वॉलीबॉल, खो-खो, हॉंकी, एथलेटिक्स खेल विधाओ में प्रशिक्षण शिविर संचालित किया गया जिसमें लगभग 1200 खिलाडिय़ों ने भाग लिया। इसी प्रकार जिले के विकासखण्ड एवं ग्रामीण क्षेत्रों में भी शिविर का आयोजन किया गया, जिसमें लगभग 1300 खिलाडिय़ो ने अपना पंजीयन कराया। इस प्रकार ग्रीष्मकालीन खेल प्रशिक्षण शिविर में जिले में कुल 2500 खिलाडिय़ो ने भागीदारी की।

कार्यक्रम के अंत में जिला खेल और युवा कल्याण अधिकारी द्धारा उपस्थित सभी अतिथियों को स्मृति चिन्ह भेंट किए गए। इस अवसर पर आरआई योगेन्द्र सिंह भाटी, क्रीड़ा अधिकारी श्रीकांत द्धिवेदी, रामलखन शर्मा महर्षि विद्या मंदिर, बीएस राठौर प्राचार्य केन्द्रीय विद्यालय, जीपी सोनी प्रबंधक भारतीय स्टेट बैंक, जेपी रावत, धनीराम अहिरवार, अजय कुमार सक्सेना, जीतेन्द्र कुमार आरख, किशोरीलाल सेन, लक्ष्मी पटेल सहित खेल प्रेमी मौजूद रहे। संचालन धीरज चौबे ने किया एवं आभार प्रदर्शन शंकर लाल रैकवार जूडो प्रशिक्षक द्वारा किया गया।
प्रशिक्षकों और सहयोगियों को मिला सम्मान

अंत में ग्रीष्मकालीन खेल प्रशिक्षण शिविर के सहयोगियों, प्रशिक्षकों एवं सभी खिलाडिय़ों को टे्रकशूट, प्रमाण पत्र, टी-शर्ट एवं स्मृति चिन्ह से सम्मानित किया गया। इस अवसर पर ग्रीष्मकालीन खेल प्रशिक्षण शिविर में भाग ले रहे बच्चो को प्रतिदिन प्रोष्टिक आहार वितरण करने का कार्य जिला व्यापारी संघ द्धारा किया गया। जिला व्यापारी संघ के सभी सदस्यों को स्मृति चिन्ह से सम्मानित किया गया है। इसके बाद मप्र शूटिंग शॉंटगन ऐकेडमी में चयनित होने वाली छतरपुर की बालिका काजल सिंह का सम्मान किया गया तथा शिविर में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करने वाले विनोद दीक्षित एवं डॉं. रामप्रताप यादव को भी उनके विशेष सहयोग के लिए स्मृति चिन्ह से सम्मानित किया गया। शिविर के उत्कृष्ट खिलाडिय़ों एवं प्रशिक्षकों को प्रमाण पत्र, ट्रेकशूट, टी-शर्ट एवं स्मृति चिन्ह से सम्मानित किया गया तथा सभी संबंधित प्रशिक्षकों को उनके खेल के सभी खिलाडिय़ों को प्रमाण पत्र एवं टी-शर्ट प्रदान की गईं। शिविर के सभी सहयोगियों को सम्मानित किया गया।

Show More
हामिद खान Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned