भू -अभिलेख मामलों में राहत के लिए अभियान

राजस्व भू -अभिलेख शुद्धिकरण पखवाड़ा एक नवंबर से 15 नवंबर तक मनाया जाएगा। जिला कलेक्टर सौरभ कुमार सुमन ने यहां प्रशिक्षण कार्यक्रम में अधिकारियों व कर्मचारियों को निर्देश दिए। अभियान के दौरान तहसील स्तर पर फ ौती नामांतरण, व्यापवर्तन,डाटा एंट्री, धारणाधिकार के प्रकरण तैयार किए जाएंगे।

By: Rahul sharma

Updated: 14 Oct 2021, 12:43 PM IST

छिन्दवाड़ा/अमरवाड़ा. राजस्व भू -अभिलेख शुद्धिकरण पखवाड़ा एक नवंबर से 15 नवंबर तक मनाया जाएगा। जिला कलेक्टर सौरभ कुमार सुमन ने यहां प्रशिक्षण कार्यक्रम में अधिकारियों व कर्मचारियों को निर्देश दिए। अभियान के दौरान तहसील स्तर पर फती नामांतरण, व्यापवर्तन,डाटा एंट्री, धारणाधिकार के प्रकरण तैयार किए जाएंगे। राजस्व रिकॉर्ड शुद्धिकरण,परिमार्जन का कार्य भी करना है। कलेक्टर ने कहा कि पटवारी हल्का स्तर पर फौती नामांतरण,अविवादित नामांतरण बंटवारा प्रकरणों का चयन कर निराकरण कराएं । समय सीमा में काम पूरा किया जाना चाहिए।अनुविभागीय अधिकारी अभिषेक सराफ ,हर्रई तहसीलदार वीर बहादुर सिंह, रत्नेश ठवरे ,नायब तहसीलदार सौरव मरावी ,दीक्षा पटेलए राजस्व निरीक्षक केदार सिंह राहंगडाले ,जग भान साह उइके, रविशंकर धुर्वे, आरआई मेहरा हर्रई एवं अमरवाड़ा एवं हर्रई बटका खापा हल्का के पटवारियों से कहा गया कि अभियान को गंभीरता से लें और कोशिश करें कि कोई काम शेष ना रहे। उल्लेखनीय है कि भू -अभिलेखों में कई बार गलत इन्द्राज से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है और उन्हें राजस्व कार्यालयों के चक्कर लगाने पड़ते हैं। इस अभियान से ऐसे लोगों को राहत मिलेगी।

Rahul sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned