डॉक्टरों को बड़ी राहत: सेवानिवृत्ति के बाद भी दे सकेंगे सेवा

डॉक्टरों को बड़ी राहत: सेवानिवृत्ति के बाद भी  दे सकेंगे सेवा
Police investigation and strictness before election

Prabha Shankar Giri | Updated: 08 Apr 2019, 11:43:32 AM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

सहमति पत्र लिखवा रहा विभाग

छिंदवाड़ा. सेवानिवृत्ति के बाद भी एक वर्ष की अवधि तक डॉक्टर्स अपनी सेवाएं प्रदान कर सकेंगे। इसके लिए मध्यप्रदेश स्वास्थ्य संचालनालय सहमति पत्र भरवा जा रहा है।
दरअसल, प्रदेश में विशेषज्ञ अथवा पीजी चिकित्सकों की अत्याधिक कमी है, इसके कारण मरीजों को उचित उपचार नहीं मिल पाता है। वर्तमान में जो विशेषज्ञ डॉक्टर कार्यरत, उनकी सेवानिवृत्ति के बाद स्थिति और न बिगड़ जाए, इस समस्या को दृष्टिगत रखते हुए शासन ने निर्णय लिया है। इसके तहत प्रदेश में विगत दो वर्षों में सेवानिवृत्त हुए एवं वर्तमान में कार्यरत (आगामी 6 माह तक सेवानिवृत्त होने वाले) विशेषज्ञ-पीजी चिकित्सकों से इस संबंध में सहमति प्राप्त की जा रही है। इसके बाद संबंधित डॉक्टर एक वर्ष की अवधि के लिए प्रदेश की स्वास्थ्य संस्थाओं में बतौर विशेषज्ञ सेवाएं प्रदान करेंगे। विभाग ने सहमति पत्र का प्रारूप भी सीएमएचओ तथा सिविल सर्जन सहअधीक्षक को उपलब्ध करा दिया है।

वर्तमान में 65 वर्ष है निर्धारित आयु
प्रदेश में डॉक्टरों की सेवानिवृत्ति की आयु 65 वर्ष निर्धारित है। इसके बाद एक वर्ष तक सेवा देने पर शासन की ओर से तय मानदेय सम्बंधित विशेषज्ञ-पीजी डॉक्टरों को मिलेगा। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जेएस गोगिया ने बताया कि उक्त प्रक्रिया दो तरह की होती है। एक तो शासन से कार्य अवधि बढ़ा देना, जिसमें डॉक्टरों के फंड, ग्रेच्युटी समेत अन्य लाभ की गणना तय अवधि बीतने के बाद की जाती है। वहीं रिइप्लायमेंट की स्थिति में मिलने वाला वेतन कम नहीं होता, हालांकि फंड, ग्रेच्युटी आदि की राशि निकाली जा सकती है, लेकिन पेंशन की शुरुआत सेवानिवृत्ति के बाद ही होती है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned