प्रतिबंध के बाद भी नदियों से रेत का उत्खनन

प्रतिबंध के बाद भी नदियों से रेत का उत्खनन

Arun Garhewal | Updated: 21 Jul 2019, 11:52:45 PM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

रेत उत्खनन का मामला

छिंदवाड़ा. तामिया. ब्लॉक में रेत का अवैध उत्खनन और परिवहन धड़ल्ले से जारी है। विगत दो दिनों के अंदर तामिया तहसीलदार उत्नेश् ठवरे ने राजस्व अमला के साथ दो डम्पर को रेत परिवहन करते हुए पकड़ा माफिया पर कार्रवाई कर डम्पर थाना परिसर में खड़ा करवा दिया गया वहीं अन्य विभागीय अधिकारियों की ओर से कोई भी ठोस कार्रवाई नहीं की जा रही है। आलम यह है कि माफिया रेत निकालने के लिए नदियों को छल्ली कर रहे हैं।
अवैध उत्खनन को रोकने का काम खनिज विभाग का है लेकिन रेत उत्खनन के मामले में विभाग की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की जाती। जब रेत उत्खनन का मामला प्रकाश में आता है तो विभाग की ओर से एक या दो औपचारिकताएं निभाने के लिए कार्रवाई कर दी जाती है और उनसे जुर्माना वसूला लिया जाता है। एनजीटी के द्वारा लगाए गए प्रतिबंध के बावजूद भी नदियों में रेत खनन पर लगी रोक का फायदा रेत माफिया उठा रहे हैं। बढ़ती मांग के साथ रेत के दाम आसमान छूते चले गए। पूर्व में रेत प्रति ट्रॉली रेत की कीमत एक हजार से 1500 रुपए पड़ती थी। वहीं अब प्रतिबंध के बाद रेत की एक ट्रॉली 3500 से 4000 तक बेची जा रही है। तीन गुना फायदे के चलते रेत माफिया बड़ी मात्रा में रेत खनन कर रहे हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned