आए दिन लाश उगलती हैं कोल माइंस की बंद खदानें

आए दिन लाश उगलती हैं कोल माइंस की बंद खदानें
Missing man's death

Prabha Shankar Giri | Updated: 15 Jul 2019, 08:00:00 AM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

तीन जुलाई से लापता युवक, अवैध कोयला उत्खनन के दौरान दबने की आशंका

परासिया. अवैध कोयला उत्खनन के दौरान चांदामेटा के एक युवक की मुहाने के भीतर दबने से मौत की आशंका जताई जा रही है। रविवार सुबह से स्टेट बैंक बडक़ुही के पीछे स्थित पुरानी खदान के मुहाने को चौड़ाकर जांच पड़ताल शुरू की गई जो देर रात तक चलती रही। परिजन द्वारा पुलिस से शिकायत पर गुम इंसान का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
थाना प्रभारी महेंद्र मिश्रा के अनुसार लापता युवक के परिजन ने बताया है कि सिंह वाहिनी चौक चांदामेटा निवासी 26 वर्षीय युवक विक्की बुनकर पिता दिलीप बुनकर तीन जुलाई को घर से गुजरात जाने की बात कहकर निकला था। गुजरात नहीं पहुंचने पर परिजन ने इसकी सूचना पुलिस को दी और बताया कि लापता युवक कोयला उत्खनन करने भी जाता था। हो सकता है कि उसकी मौत कोयला उत्खनन के दौरान हो गई हो। जब पुलिस ने गुमशुदा युवक के दो करीबी साथियों से बात की तो उन्होंने महत्वपूर्ण जानकारी दी। युवक अन्य दो लोगों के साथ मुख्य मार्ग बडक़ुही पर स्थित स्टेट बैंक के पीछे बंद खदान के पुराना मुहाना से कोयले का अवैध उत्खनन करने नीचे उतरा था, लेकिन वह वापस नहीं लौटा। हालांकि पुलिस अब भी कुछ भी कहने से बच रही है।

जहरीली गैस के बाद रेस्क्यू टीम को बुलाया
पुलिस द्वारा महाप्रबंधक पेंच से मदद मांगने के बाद एरिया सेफ्टी ऑफिसर घटना स्थल पहुंचे और उन्होंने उपकरणों के माध्यम से जांच करने के बाद बताया कि मुहाने के पास जहरीली गैस के रिसाव की आशंका है। तब रेस्क्यू टीम को बुलाया गया। रेस्क्यू अधिकारियों ने मुहाना बहुत संकरा होने और भुरभुरी मिटटी के कारण उतरने से मना कर दिया। इसके बाद जेसीबी की सहायता से मुहाना को चौड़ा और गहरा करने का काम शुरू किया गया।


अवैध उत्खनन में हो चुकी है दर्जनों मौत
कोयलांचल में अवैध उत्खनन के दौरान बड़ी संख्या में लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है। केवल बडक़ुही क्षेत्र में ही अब तक अवैध उत्खनन से कई जानें जा चुकी हैं। जिस स्थान पर लापता युवक की तलाश की जा रही है वहीं पर करीब आठ वर्ष पूर्व एक युवक की कोयला निकालने के दौरान मौत हो चुकी है। जब भी इस मुहाने को बंद किया गया, अवैध कारोबार में लिप्त लोगों ने इसे खोल दिया। ये लोग गरीब वर्ग के लोगों को पैसे का झांसा देकर अवैध उत्खनन करवाते हैं। यहां से निकाले गए कोयले की आपूर्ति ईंट-भट्टा, होटल और ढाबों में की जाती है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned