फसलों के सर्वे में बरती लापरवाही

mantosh singh

Publish: Mar, 14 2018 07:00:00 PM (IST)

Chhindwara, Madhya Pradesh, India
फसलों के सर्वे में बरती लापरवाही

फसलों के नुकसान का सर्वे ठीक से नहीं होने के कारण कांग्रेस ने प्रशासन को ज्ञापन सौपकर फसलों के नुकसान संबंध में उच्च स्तरीय जांच कराने की मांग रखी।

सौसर. विगत दिनों क्षेत्र में हुई ओलावृष्टि आंधी तूफान एवं अधिक वर्षा से फसलों के भारी नुकसान का सर्वे ठीक से नहीं होने के कारण कांग्रेस ने मंगलवार को प्रशासन को ज्ञापन सौपकर फसलों ंके नुकसान संबंध में उच्च स्तरीय जांच कराने की मांग रखी।
अनुविभागीय अधिकारी के नाम तहसीलदार आर. कुशराम को ज्ञापन सौपते कांग्रेस के भागवत महाजन, जिला कांग्रेस महामंत्री अनिल ठाकरे, अशोक चौधरी, युवराज जिचकार, ब्लॉक अध्यक्ष पूनाराम बाविस्टाले, विजय चौरे, डॉ. राजेश सोमकुंवर, चंद्रशेखर गुर्वे, देवेन्द्र केदार प्रमुखता से उपस्थित रहे। कांग्रेस ने ज्ञापन के माध्यम से बताया कि पटवारी, राजस्व निरीक्षक द्वारा पटवारी हल्को में फसलों के नुकसान पर ठीक से सर्वे नहीं किया है। किसानों की बर्बाद हो चुकी फसलों का मौके पर पहुंचकर भी आकलन ठीक से नहीं किया है। पटवारियों ने मात्र औपचारिकता पूर्ण कर प्रकरण बनाने का कार्य किया है।

तो कैसे मिलेगा किसानों को मुआवजा
कांग्रेस नेताओं ने कहा कि ओलावृष्टि से बर्बाद हुई फसलों का ठीक से सर्वे नहीं हुआ तो अब मुआवजा कैसे मिल पाएगा। पटवारी दूर से खेतों को देख आंकलन कर 40 से 50 प्रतिशत तो कही 30 से 40 प्रतिशत नुकसान दर्ज करा रहे है। कहा कि शासन द्वारा सर्वे कराने की बात पर हुए किसान भी संतुष्ट नहीं हैं। संतरा, अनार उत्पादन को लेकर बताया कि अंबिया बहार की फसल को ओलावृष्टि के समय फूल आ चुके थे। जिसे सर्वेे में शामिल नहीं किया गया है। वहीं गिरे हुए गेंहू को क्षति में नहीं लिया है।

सरकार किसानों से कर रही छलावा
सौंसर कृषि उपज मंडी में नाफेड द्वारा तुअर की खरीदी विगत वर्ष की गई। नाफेड द्वारा इस वर्ष खरीदी प्रारंभ नहीं हुई है जिसे शुरू कराया जाए।
कांग्रेस ने किसानहित में कहा कि सरकार किसानों के साथ छलावा कर रही है। न मुआवजा ठीक से दे रही है न ही किसानहित में कोई कार्य हो रहा है। कांग्रेस ने कहा कि मांगों से संबंध में कार्रवाई की जाए। इस दौरान के पी भालेराव, पुरूषोत्तम कालबांडे, विट्ठल गायकवाड़, राजा कलसकर, शाहिद सिद्दीकी, विलास बुले, हंसराज
बारस्कर, योगेश अढाऊ आदि थे।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned