दिनभर से मलबे में दबा किसान: रेस्क्यू टीम भी हारी, बारिश हुई तो भयावह होंगे हालात

दिनभर से मलबे में दबा किसान:  रेस्क्यू टीम भी हारी, बारिश हुई तो भयावह होंगे हालात
Chhindwara

Prabha Shankar Giri | Updated: 25 Jun 2019, 05:00:00 AM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

पांढुर्ना के ग्राम मालेगांव का मामला: सिर्फ सिर ही बाहर नजर आ रहा है

पांढुर्ना/ छिंदवाड़ा . ग्राम मालेगांव में कुआं साफ करने उतरा एक किसान मलबे के नीचे दब गया। रविवार को मालेगांव में रामनाथ पराडकऱ के खेत के कुएं में ब्लास्टिंग कर चट्टान तोड़ी गई। सोमवार को मलबा निकालने के लिए रामनाथ का बेटा सुभाष मजदूरों के साथ कुएं में उतरा। वह पत्थर भरकर ऊपर दे रहा था। तभी चट्टान खिसकने से पत्थर का मलबा भरभराकर सुभाष पर गिर गया। सुभाष गर्दन तक मलबे में दब गया। दिनभर प्रशासन की मौजूदगी में सुभाष को बाहर निकलने का प्रयास चलता रहा, लेकिन देर शाम तकसफलता नहीं मिली। बताया जा रहा है कि सुभाष का पैर बुरी तरह फंसा हुआ है, आसपास की चट्टान हटाने पर फिर से मलबा सुभाष पर गिरने लगता है। इसी वजह से दिनभर किसान को बाहर निकालने में सफलता हाथ नहीं लगी।

Chhindwara
patrika IMAGE CREDIT:

डब्ल्यूसीएल के अधिकारी भी नाकाम
जब स्थानीय प्रयासों से किसान को बाहर नहीं निकाला जा सका तो प्रशासन ने डब्ल्यूसीएल के अधिकारियों से मदद मांगी। शाम को पंहुचे दल ने हालात देख कर खुद को असहाय करार दे दिया। ऐसे में गांव वालों की हिम्मत टूटने लगी, देर शाम बारिश का भी खतरा मंडरा रहा था। सुभाष इलाज चिकित्सकों ने कुएं में उतरकर किया।

Chhindwara
patrika IMAGE CREDIT:

घटना के बाद जुटी भीड़
घटना की जानकारी मिलते ही पराडकऱ के खेत में लोगों का हुजूम जुट गया। एसडीएम दीपक कुमार वैद्य, तहसीलदार शिवशंकर भलावी सहित प्रशासनिक अमला मौजूद रहा। घटना में रेस्क्यू करने के लिए जिले से आये एनडीआरएफ की टीम भी पहुंची, लेकिन मामला गंभीर होने की वजह से कोई मदद नहीं कर पाए।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned