शहरभर में हुई जांच लेकिन किसी ने हिम्मत नहीं दिखाई इन्हें रोकने की

शहरभर में हुई जांच लेकिन किसी ने हिम्मत नहीं दिखाई इन्हें रोकने की

prabha shankar | Publish: Apr, 17 2018 11:13:56 AM (IST) Chhindwara, Madhya Pradesh, India

पुलिसकर्मी ही बगैर हेलमेट, बिना पंजीयन नम्बर वाले वाहनों को दौड़ा रहे

छिंदवाड़ा. अब यह सवाल उठने लगा है कि अगर पुलिसकर्मी ही ट्रैफिक नियमों को तोड़ेंगे तो उन पर कार्रवाई कौन करेगा। दरअसल, चैकिंग के दौरान नियमों को तोड़ते पुलिस कर्मी मौके पर मौजूद टीम को नजर नहीं आते हंै या उन्हें अनदेखा कर दिया जाता है।
लगातार सडक़ हादसों से बढ़ते मौत के ग्राफ के बाद पुलिस अधीक्षक ने पहले लोगों को जागरूक होने तथा यातायात के नियमों का पालन करने को कहा, जिसके बाद जिलेभर में पुलिस ने चैकिंग अभियान शुरू किया। सभी थानों की पुलिस प्रतिदिन वाहन चैकिंग कर रिकॉर्ड चालानी कार्रवाई कर रही है। लोगों में जागरुकता देखने को मिल भी रही है। शहर में लोग हेलमेट पहने नजर आने लगे हैं, लेकिन इस अभियान के बीच यह बात भी उठ रही है कि क्या नियम सिर्फ आम लोगों के लिए बने हंै व उन्हें ही नियमों का पालन करना है। वर्तमान में कई पुलिस कर्मी नियमों का पालन करते नजर नहीं आ रहे हंै।

कोतवाली के सामने चल रही थी चैकिंग
सोमवार को एेसा ही एक वाक्या सामने आया जब कोतवाली थाना के सामने वाहन चैकिंग चल रही थी इस दौरान कोतवाली में पदस्थ प्रधान आरक्षक बस स्टैंड की तरफ से आकर चैंकिग के सामने से कोतवाली परिसर के अंदर चला गया। इस पुलिस कर्मी के दो पहिया वाहन पर न ही नम्बर लिखा था न ही पुलिसकर्मी ने हेलमेट लगाया हुआ था। चैकिंग के दौरान जिन आम लोगों के वाहन पुलिस कर्मियों ने नियमों की अनदेखी के कारण पकड़े थे वे भी इस बात का विरोध करने लगे कि क्या पुलिस कर्मियों के लिए कोई नियम नहीं है या फिर उन्हें नियम तोडऩे की छूट मिली हुई है।

मिल चुके हंै पुलिस कर्मियों को निर्देश
पुलिस अधीक्षक ने पुलिस कर्मियों को हेलमेट व यातायात नियमों का पालन सर्वप्रथम करने के निर्देश दिए थे। इसके पूर्व ही देहात थाने में पदस्थ महिला एसआई पर भी पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर चालानी कार्रवाई की गई थी जब महिला एसआई परासिया मार्ग पर कुंडाली चौराहे पर वाहन चैकिंग के बाद अपनी दुपहिया से थाने आने के लिए निकली इस दौरान वह हेलमेट पहने हुए नहींं थी। फोटो वायरल होने पर कार्रवाई की गई थी।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned