Railway: सीआरएस ने इस नए रेलमार्ग का निरीक्षण करने से किया इंकार, पढि़ए पूरा मामला

रेलमार्ग पर कुछ कार्य शेष रह गए हैं।

By: ashish mishra

Updated: 08 Dec 2019, 12:23 PM IST

छिंदवाड़ा. दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे नागपुर मंडल के अंतर्गत भंडारकुंड से भिमालगोंदी तक बने नए रेलमार्ग का निरीक्षण करने से कमिश्नर ऑफ रेलवे सेफ्टी(सीआरएस) ने किया इंकार कर दिया है। बताया जाता है कि अभी भंडारकुंड से भिमालगोंदी के बीच रेलमार्ग पर कुछ कार्य शेष रह गए हैं। जिसे लेकर सीआरएस ने आपत्ति जताई है। सीआरएस का कहना है कि कार्य पूरा होने के बाद ही वह निरीक्षण करने आएंगे। वहीं दूसरी तरफ सीआरएस द्वारा नैनपुर से लापटा तक बने रेलमार्ग एवं केलोद से भिमालगोंदी तक बने रेलमार्ग पर किए गए विद्युतिकरण कार्यों के निरीक्षण को लेकर तिथि जारी कर दी गई है। बताया जाता है कि सीआरएस 13 दिसंबर को केलोद से भिमालगोंदी तक विद्युतिकरण एवं 14 दिसंबर को नैनपुर से लामटा तक बने रेलमार्ग का निरीक्षण करेंगे। हालांकि सीआरएस का अधिकारिक दौरा अभी घोषित नहीं हुआ है।

दिनभर चलती रही चर्चा
शनिवार को मॉडल रेलवे स्टेशन में सीआरएस के निरीक्षण को लेकर चर्चा होती रही। अंदेशा जताया जा रहा था कि सीआरएस 13 या फिर 15 दिसंबर को भंडारकुंड से भिलालगोंदी रेलमार्ग का निरीक्षण करेंगे।

तीन जगहों का होना था निरीक्षण
कमिश्नर ऑफ रेलवे सेफ्टी द्वारा छिंदवाड़ा से नागपुर रेल परियोजना में केलोद से भिमालगोंदी रेलमार्ग पर किए गए विद्युतिकरण के साथ भंडारकुंड से भिमालगोंदी एवं नैनपुर से लापटा तक बने रेलमार्ग का निरीक्षण किया जाना था। माना जा रहा था कि सीआरएस एक साथ ही तीनों जगह के निरीक्षण को लेकर तिथि निर्धारित करेंगे।

Patrika
ashish mishra Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned