शिक्षकों द्वारा रचित कहानी सुनेंगे स्कूली बच्चे, पढ़ें पूरी खबर

- विभाग ने मांगी प्रविष्टियां, जिलास्तर से चयनित होकर जाएगी राज्य में

By: Dinesh Sahu

Published: 28 Sep 2020, 11:45 AM IST

छिंदवाड़ा/ स्कूली बच्चों के लिए अब शिक्षक कहानी लेखन कार्य करेंगे, जिसके लिए विभाग ने प्रत्येक शिक्षकों को कहानी लिखने तथा निर्धारित समय अवधि पर प्रविष्टियों को जमा करने के निर्देश दिए है। जिला शिक्षा केंद्र छिंदवाड़ा से मिली जानकारी के अनुसार कक्षा पहली से पांचवीं स्तर तक के बच्चों के लिए कहानी स्थानीय स्तर पर आधारित कहानी लिखना है तथा प्रत्येक जनशिक्षा केंद्र से सर्वश्रेष्ठ कहानी का चयन कर जनपद शिक्षा केंद्र में जमा करना है।

इनका परीक्षण हिन्दी विषय के बीएसी करेंगे और सबसे अच्छी दो-दो कहानियों को जिलास्तर पर डाइट प्रशिक्षण संस्थान में जमा करेंगे। बताया जाता है कि यहां से चयनित होकर बेस्ट दस कहानी को राज्य शिक्षा केंद्र पर भेजा जाएगा। जिला शिक्षा केंद्र के एपीसी आकादमी संजय दुबे ने बताया कि हर ब्लाक से सबसे अच्छी और प्रेरणादायी दो-दो कहानी पहुंचेगी, जिससे जिले में कुल 110 कहानी एकत्रित होगी तथा इनमें से दस का चयन कर राज्य में भेजा जाएगा।


बेस्ट कहानी का होगा प्रकाशन -


राज्य शिक्षा केंद्र द्वारा प्रदेश के समस्त जिलों से उक्त प्रविष्टियां मंगवाई गई है। इस तरह छिंदवाड़ा समेत पूरे प्रदेश के शिक्षकों की कहानी उपलब्ध होगी, जिसमें से चयनित कहानी का प्रकाशन होगा तथा बच्चों को सुनाया और पढ़ाया भी जाएगा।

Show More
Dinesh Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned