scriptSickle Cell OPD now in District Hospital | जिला चिकित्सालय में अब सिकलसेल ओपीडी | Patrika News

जिला चिकित्सालय में अब सिकलसेल ओपीडी

locationछिंदवाड़ाPublished: Dec 28, 2023 08:27:13 am

Submitted by:

manohar soni

हर बुधवार को पीडि़तों को मिलेगी इलाज की सुविधा

जिला चिकित्सालय में अब सिकलसेल ओपीडी
जिला चिकित्सालय में अब सिकलसेल ओपीडी

छिंदवाड़ा. मेडिकल कालेज से संबद्ध जिला चिकित्सालय के शिशुरोग विभाग में रेडक्रॉस सोसाइटी के संयुक्त तत्वावधान में सिकल सेल एनिमिया की विशेष ओपीडी शुरू हुई है। यह प्रत्येक बुधवार को अस्पताल के फस्र्ट फ्लोर पर कक्ष क्रमांक 16 में संचालित होगी। यहां पर सिकल सेल रोग पीडितों की संपूर्ण जांच एवं फालोअप, दवा वितरण, स्कीनिंग, सिकिल सेल काउन्सलिंग एक छत के नीचे होगी जिससे पीडि़तों को भटकना नहीं पड़ेगा ।
इसके उद्घाटन अवसर पर मेडीकल कॉलेज के डीन डॉ. गिरीश रामटेके ने बहुत ही आसान तरीके से सिकल सेल के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि सिकल सेल एनीमिया डरने और घबराने वाली बीमारी नहीं है, मात्र खून की जन्मजात विकृति है। यह बीमारी मात्र दवाइयों के नियमित सेवन एवं आवश्यकता पडऩे पर ब्लड ट्रांसफयूजन से नियंत्रित रहती है। नियमित परीक्षण से व्यक्ति अपना पूरा जीवन अच्छी तरह से व्यतीत कर सकता है। अत: सभी पीडि़तों को इस ओपीडी का लाभ लेना चाहिए ।
डॉ. दिलीप खरे, सचिव रेडकास सोसायटी ने इस बीमारी को अनुवांशिक बताते हुए शादी के समय रक्त परीक्षण कर शादी करने की सलाह दी। जिससे आने वाली पीढ़ी में बीमारी को जाने से रोका जा सके । कार्यक्रम का आयोजन शिशुरोग विभाग के परिसर में किया गया। डीन डॉ. गिरीश रामटेके द्वारा सर्वप्रथम मां सरस्वती के चित्र पर दीप प्रज्जवलन कर कार्यकम का शुभारंभ किया गया। इस कार्यक्रम में शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ.हितेश रामटेके, डॉ. पवन नन्दुरकर, डॉ. रंगारे, डॉ. अनिता रहांगडाले, डॉ. हर्षवर्धन कुडापे, पीडि़त और प्रेरणास्त्रोत शालू खान, धर्मेन्द्र, ऐश्वर्या, निहारिका उपस्थित थे।

ट्रेंडिंग वीडियो