दस हजार का चंदा फिर भी पानी को मोहताज

परासिया के ग्राम जामुनबर्रा से आए ग्रामीणजन,कहा-दो किमी दूर से ढूंढकर लाते हैं पेयजल

By: manohar soni

Published: 16 May 2018, 11:51 AM IST



छिंदवाड़ा.परासिया विकासखण्ड के ग्राम जामुनबर्रा में भीषण पेयजल संकट बना हुआ है। महिलाएं दो किमी दूर से पानी लेकर आ रही है। इस गांव की झिरिया की मरम्मत के लिए पंचायत द्वारा दस हजार रुपए का चंदा भी किया गया लेकिन काम नहीं कराया गया है। इसको लेकर ग्रामीणों का दल मंगलवार को कलेक्टर जनसुनवाई में पहुंचा और हस्तक्षेप की मांग की।
पंच केराबाई,कमनी,रानी,लता समेत अन्य ने बताया कि ग्राम की नल-जल योजना का बोर धसक गया है। इसके चलते पानी नहीं आ पा रहा है। दूसरा बोर पीएचई विभाग द्वारा कराया गया लेकिन वह सूखा निकला। गांव में एक झिरिया बहुत पुरानी है। पिछले साल जेसीबी से झिरिया से चौड़ीकरण किया गया। जिसकी बंधाई आज तक नहीं की गई है। झिरियानुमा जगह पर मिट्टी जमा हो गई। इसके लिए सचिव द्वारा दस हजार रुपए का चंदा भी एकत्र किया गया। अभी तक इसकी मरम्मत नहीं कराई गई है। इसके अभाव में ग्रामीणों को दूरदराज से पानी लाना पड़ रहा है। ग्रामीणों ने कलेक्टर से जांच कराकर राहत देने की बात कहीं।

...
जमीन का नहीं मिला मुआवजा
वेकोलि परासिया द्वारा ग्राम जमुनिया पठार में कोयला खदान के लिए १२ किसानों की जमीन का अधिग्रहण कर लिया गया लेकिन अभी तक मुआवजा और परिवार के सदस्य को नौकरी नहीं दी गई है। ग्रामीण हेमंत नागवंशी,कंचलाल नागवंशी,चम्पूलाल,संतोष समेत अन्य ने बताया कि वेकोलि अधिकारियों के उपेक्षापूर्ण व्यवहार से लोग तंग हो गए हैं। उन्होंने कलेक्टर से हस्तक्षेप की मांग की।.
....
रैय्यतढाना में बिजली कटौती
मोहखेड़ ब्लॉक के ग्राम मुजावर पूर्वी रैय्यतढाना में बिजली कटौती के चलते ग्रामीणों को पेयजल संकट से गुजरना पड़ रहा है तो वहीं उनके व्यवसाय ठप पड़ गए हैं। क्षेत्रीय जनपद सदस्य अरूणा तिलंते समेत अन्य महिलाओं ने बताया कि उनके गांव के घरेलू कनेक्शन कृषि लाइन से जुड़े हैं। इसके कारण दस घंटे कटौती हो रही है। उन्होंने कृषि लाइन के स्थान पर दूसरे फीडर से बिजली जोडऩे की मांग की। उन्होंने यह भी बताया कि खुनाझिर के अंतर्गत ग्राम नारंगी में दो माह से नल जल योजना ठप पड़ी है।

कलेक्टर ने सुने २०९ आवेदन
कलेक्टर वेद प्रकाश ने शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों से आए लगभग 250 व्यक्तियों के 209 आवेदन प्राप्त किए । इनमें मुख्य रूप से गरीबी रेखा में नाम जोडऩे,बंटवारा करने और पावती बनाने, मृत्यु प्रमाण पत्र दिलाने, कपिल धारा कूप निर्माण कराने, सुरक्षा गार्ड की नौकरी के लिये शस्त्र लाइसेंस की स्वीकृति देने, निर्माण कार्य की राशि दिलाने आदि से संबंधित थे। जनपद पंचायत परासिया के सहायक लेखा अधिकारी राजेश भट्ट ने निलंबन से बाहर करने की मांग की। इसी तरह उमरेठ के पास मुलतई गांव के लोगों ने पानी,बिजली और सड़क की मांग को रखा।
....
गेहूं व मक्का खरीदी में अनियमितता
सेवा सहकारी समिति कुण्डालीकलां के कर्मचारियों पर अनियमितता बरतने का आरोप किसानों ने लगाया। उन्होंने शिकायत में बताया कि अनाज विक्रय करने के लिए जाने पर किसानों से कमीशन की मांग की जाती है। कमीशन न देने पर किसानों का अनाज तौलने पर आनाकानी की जाती है।

सरकारी जमीन पर हुआ अतिक्रमण
ग्राम लालगांव के शासकीय स्कूल से लगी २० एकड़ सरकारी जमीन सरकारी रिकार्ड में ग्रामवासियों के लिए रास्ता,खेल मैदान,घास और नाला के नाम पर दर्ज है। अधिवक्ता एसएम मंसूरी ने एक आवेदन में बताया कि स्थानीय लोगों ने इस पर अतिक्रमण कर लिया है। उन्होंने इसे अतिक्रमण मुक्त कराने की मांग की।
....
बिना एनओसी के क्रेशर प्लांट
मोहखेड़ ब्लॉक की ग्राम पंचायत नरसला में तीन क्रेशर संचालित हो रहे हैं। इसकी एनआेसी पंचायत से नहीं ली गई है। सरपंच सुनील चंद्रवंशी ने कलेक्टर को दिए आवेदन में कहा कि क्रेशर प्लांट की धूल से गांव में प्रदूषण फैल रहा है। उन्होंने इसकी जांच कराने की मांग की।
.....

Patrika
manohar soni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned