scriptThere is a lock hanging on the school building built four years ago | चार साल पहले बने स्कूल भवन पर लटका है ताला | Patrika News

चार साल पहले बने स्कूल भवन पर लटका है ताला

locationछिंदवाड़ाPublished: Jan 31, 2024 08:11:54 pm

Submitted by:

Rahul sharma

ग्राम हिवरासेनडवार में चार साल पहले लाखों की लागत से हाईस्कूल भवन तैयार किया परंतु यहां पहुंचने के लिए दो किलोमीटर सडक़ आज तक नहीं बन सकी। नतीजन भवन पर ताला लगा हुआ है। इसका लाभ विद्यार्थियों को नहीं मिल रहा है। विद्यालय भवन टूट फूट रहा है।

school.jpg
There is a lock hanging on the school building built four years ago
छिंदवाड़ा/पांढुर्ना. ग्राम हिवरासेनडवार में चार साल पहले लाखों की लागत से हाईस्कूल भवन तैयार किया परंतु यहां पहुंचने के लिए दो किलोमीटर सडक़ आज तक नहीं बन सकी। नतीजन भवन पर ताला लगा हुआ है। इसका लाभ विद्यार्थियों को नहीं मिल रहा है। विद्यालय भवन टूट फूट रहा है। गांव के प्रकाश डोंगरे ने जनसुनवाई में आवेदन देकर जल्द सडक़ बनाने की मांग की जिससे बारिश के मौसम में दलदल की समस्या का सामना किए बिना विद्यार्थी स्कूल आना जाना कर सकें। ग्राम रायबासा के विद्यार्थियों ने जनसुनवाई में कक्षा पांच, आठ व 10 का परीक्षा केंद्र पुन: बहाल करने की मांग की। कलेक्टर को बताया कि पहले रायबासा में परीक्षा केन्द्र था जहां बुचनखापा, भाजीपानी, घोगरी, गोविंदपुर, सावजपानी, बिरोलीपार के परीक्षार्थी आते थे। लेकिन केन्द्र बंद करने से बच्चों को दूर जाकर परीक्षा देनी पड़ रही है। महात्मा गांधी ग्राम सेवा केन्द्र परियोजना वीएलई संघर्ष समिति के कार्यकर्ताओं ने 42 माह का मानदेय प्रदान करने की मांग की। कार्यकर्ता शेखर चौधरी, शीतल भुजाड़े प्रभा आठवले, सिद्धार्थ सोमकुंवर, पवन हरफोड़े, धनराज पराडक़र ने बताया कि हम सभी कुशल श्रेणी के कम्प्यूटर ऑपरेटर है।

ट्रेंडिंग वीडियो