सीएम के जाते ही उजाड़ दिया इस गरीब का खूबसूरत आशियाना, केवल छोड़ी शौचालय शीट

जनता को लुभाने के लिए कांग्रेस व भाजपा के बड़े माननीयों से लेकर छोटे कर्मठ कार्यकर्ताओं ने जमकर पसीना बहाया

By: Mahendra Pratap

Updated: 08 Nov 2017, 06:17 PM IST

चित्रकूट. विधानसभा (मध्य प्रदेश) उपचुनाव में प्रचार का दौर थम चुका है। नेताओं द्वारा प्राण जाए पर वचन न जाए के चुनावी जुमलों के परिणाम को जनता अब तय करने के मूड़ में है और शुक्रवार 9 नवम्बर को ये राज ईवीएम में कैद हो जाएगा। 9 नवम्बर को इस सीट पर मतदान होना है। जनता को लुभाने के लिए कांग्रेस व भाजपा के बड़े माननीयों से लेकर छोटे कर्मठ कार्यकर्ताओं ने जमकर पसीना बहाया।

इस विधानसभा उपचुनाव के दौरान बीजेपी की तो पूरी हिट लिस्ट मौजूद रही। इस विधानसभा क्षेत्र में खुद एमपी सीएम शिवराज सिंह चौहान ने तीन दिन (5 से 7 नवम्बर) के प्रवास का निश्चय किया था। इस दैरान कई जनसभाएं रोड शो, तथा किसी गरीब के घर गांव में रात विश्राम करने का प्रोग्राम डिसाइड किया गया था। जिस ग्रामीण के यहां सीएम के आने की सूचना थी उसकी झोपड़ी को रातों रात स्विस कॉटेज में बदल दिया गया और माननीय के जाते ही फिर वही कहानी याद आई की तर्ज पर झोपड़ी देशी स्टाइल में लौट आई।

सीएम के आते ही राजसी ठाठ बाट

चित्रकूट विधानसभा के ग्राम तुर्रा निवासी लालमन सिंह गोड़ के यहां सीएम शिवराज के रात बिताने की सूचना पर लालमन का घर उससे हाइजैक कर लिया गया और बीजेपी ने उसके पूरे घर का कायाकल्प कर दिया। सीएम के आने से पहले नहाने धोने की चौचक व्यवस्था, ख़्वाबगाह को बेहद आरामतलबी वाला ताकि सीएम को किसी गरीब का दर्द न महसूस हो और वो उसकी तरह करवटें न बदलें, इसकी भी अच्छी व्यवस्था की गई। फर्श पर कालीन बिछाया गया। नई शौचालय शीट लगाकर चारों तरफ से ब्रांडेड प्लाई की दीवारें खड़ी की गईं और फर्श पर टाइल्स बिछाए गए। ब्रांडेड गद्दे पर सीएम साहब ने रात गुजारी।

और उजड़ गया लालमन का चमन

सीएम साहब के जाते ही भाजपाई हरकत में आ गए और खूबसूरत सांचे में ढाले गए लालमन के चमन को उजाड़ दिया। एक एक सामान को भाजपाइयों ने अपने कब्जे में ले लिया और लालमन की झोपड़ी फिर से अपने वास्तविक स्वरूप में लौट आई। हां एक बात जो बीजेपी ने प्रशंसनीय की वह यह कि भारत सरकार की महत्वाकांक्षी स्वच्छता अभियान की शौचालय योजना के नजराने के रूप में शौचालय शीट को छोड़ दिया अलबत्ता दीवारों के रूप में लगाई गई प्लाई भी उखाड़ ले गए। इतने तो ईमानदार निकले भाजपाई। अपने घर में सीएम के रुकने पर कृतार्थ हुए लालमन का कहना है कि वे इस बात से खुश हैं कि मुख्यमंत्री उनके यहां रुके। उन्होंने ने तो भाजपाइयों से कहा कि जब सब कुछ ले जा रहे हैं तो शौचालय शीट भी लेते जाते परंतु उसे छोड़ दिया गया। लालमन के मुताबिक उन्हें तसल्ली इस बात की है कि सीएम उनके घर रुके उनका हाल चाल लिया परिवार से भी बात चीत की। बहरहाल यही तकाज़ा है जनाब राजनीति का जहां जरूरत पड़ने पर कम्बल ओढ़ कर भी घी पी लिया जाता है।

BJP Congress
Show More
Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned