गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंज उठा बीहड़ पुलिस व डकैतों में मुठभेड़ एक डकैत घायल

सूत्रों के मुताबिक ये नवोदित गैंग की दस्तक है. पुलिस अब इस गैंग की पूरी कुंडली खंगालने में लग गई है.

By: Neeraj Patel

Updated: 24 May 2020, 01:46 PM IST

चित्रकूट: ददुआ ठोकिया रागिया बलखड़िया बबुली कोल जैसे कुख्यात डकैतों के ख़ात्मे के बाद पाठा के बीहड़ों में दहशत की परछाई गायब हो गई थी. लेकिन एक बार फिर इन्ही बीहड़ों में बारूद की गंध फैल गई है. गोलियों की तड़तड़ाहट से बीहड़ का इलाका एक बार फिर थर्रा उठा है. सूत्रों के मुताबिक ये नवोदित गैंग की दस्तक है. पुलिस अब इस गैंग की पूरी कुंडली खंगालने में लग गई है जिसके तहत अहम जानकारी मिली है खाकी को. गैंग की लोकेशन ट्रेस करने का प्रयास किया जा रहा है.


पाठा के बीहड़ों में एक बार फिर डकैतों व पुलिस के बीच मुठभेड़ हुई. दोनों तरफ से ताबड़तोड़ फायरिंग हुई . इस दौरान 50 हजार का इनामिया डकैत गोली लगने से घायल हो गया जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. साथ ही एक अन्य डकैत को भी खाकी ने दौड़ाकर दबोचते हुए उसे अपनी गिरफ्त में ले लिया. हालांकि गैंग सरगना जिसका नाम हनीफ बताया जा रहा है वो अन्य साथियों के साथ बीहड़ में विलीन होने में कामयाब रहा. पुलिस को मुठभेड़ स्थल से 315 बोर की एक रायफ़ल व एकनाली बंदूक और भारी मात्रा में जिंदा कारतूस बरामद हुए हैं. डकैतों की तलाश में पुलिस सर्च ऑपरेशन चला रही है.


मुठभेड़ जनपद के मानिकपुर थाना क्षेत्र के सुआरगढ़ जंगल में हुई. जानकारी के मुताबिक उक्त क्षेत्र में मुखबिरों के द्वारा डकैतों की चहलकदमी की सूचना मिलने पर पुलिस टीम ने जंगल की घेराबंदी शुरू की. खाकी की आहट पाते ही डकैतों ने फायरिंग शुरू कर दी. जवाब में पुलिस ने भी फायरिंग की. दोनों तरफ से कई राउंड ताबड़तोड़ फायरिंग हुई. इस दौरान गैंग के 50 हजार के एक इनामिया डकैत को पुलिस की गोली ने निशाना बना लिया. जिसे गिरफ्तार कर लिया गया. इसी बीच एक अन्य डकैत को भी खाकी ने दबोचते हुए उसे अपनी गिरफ्त में ले लिया. हालांकि गैंग सरगना हनीफ अपने अन्य साथियों के साथ भागने में सफल रहा. मुठभेड़ स्थल पर पहुंचे एसपी अंकित मित्तल ने बताया कि डकैतों की लोकेशन ट्रेस की जा रही है।

Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned