ट्रेन लुटेरों के गैंग के मूवमेंट ने बढ़ाई खाकी की मुश्किलें रेल यात्रियों की सुरक्षा को चुनौती

ट्रेन लुटेरों के गैंग के मूवमेंट ने बढ़ाई खाकी की मुश्किलें रेल यात्रियों की सुरक्षा को चुनौती

Akanksha Singh | Publish: Sep, 16 2018 04:44:13 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

लुटेरों के इस गैंग ने खाकी को चुनौती दे रखी है और गैंग का मास्टर माइंड कानून की पकड़ से बाहर है

चित्रकूट: ट्रेन लुटेरों के बढ़ते मूवमेंट ने इस समय रेल प्रशासन से लेकर खाकी तक की मुश्किलें बढ़ा दी हैं. मुंबई हावड़ा रेलमार्ग पर स्थित इलाहाबाद मानिकपुर सतना(मध्य प्रदेश) रेलखण्ड के दर्जन भर दस्यु प्रभावित स्टेशन गैंग के निशाने पर हैं. अभी हाल ही में इसी रेलखण्ड के दस्यु प्रभावित पनहाई स्टेशन के पास चेन्नई से पटना जाने वाली गंगा कावेरी एक्सप्रेस ट्रेन में हुई लूट की जघन्य वारदात ने इस बात को काफी हद तक स्पष्ट कर दिया है और अब एक बार फिर चित्रकूट व् पड़ोसी जनपद बांदा की सीमा पर स्थित बदौसा रेलवे स्टेशन के पास ट्रेन लूटने की फ़िराक में बैठे लुटेरों व् पुलिस के बीच हुई मुठभेड़ ने ट्रेन लुटेरों के गैंग के नापाक मंसूबों को भी जाहिर कर दिया है. खास बात यह कि लुटेरों के इस गैंग ने खाकी को चुनौती दे रखी है और गैंग का मास्टर माइंड कानून की पकड़ से बाहर है.

वारदात की फ़िराक में थे ट्रेन लुटेरे पुलिस से हुई मुठभेड़

जनपद से सटे बदौसा(बांदा) रेलवे स्टेशन के पास शुक्रवार की देर रात उस समय पुलिस व् बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई जब लगभग आधा दर्जन से अधिक बदमाश रेलवे लाइन के पास असलहों से लैस होकर किसी वारदात को अंजाम देने की फ़िराक में थे. पुलिस के मुताबिक लुटेरे इस रेल मार्ग से गुजरने वाली झांसी-मानिकपुर व् चित्रकूट एक्सप्रेस को निशाना बनाने की फ़िराक में थे. मुखबिर की सूचना पर बदौसा थाना पुलिस ने जब सम्बंधित इलाके में गश्त शुरू की तो बदमाशों ने पुलिस की आहट पाते ही फायरिंग शुरू कर दी जिसपर पुलिस टीम ने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए फायरिंग की और बदमाशों की घेरेबंदी करते हुए उन्हें पकड़ने का प्रयास किया लेकिन अंधेरे का फायदा उठाकर बदमाश भाग निकले.

लूलू पटेल गैंग दे रहा खाकी को चुनौती


ट्रेनों में लूट की वारदात को अंजाम देने वाले गैंग में इस समय लूलू पटेल का गैंग सुरक्षा एजेंसियों की हिटलिस्ट में है. इलाहाबाद मानिकपुर सतना व् सतना कटनी जबलपुर रेलखण्ड पर कई ट्रेन डकैतियों में इसी गैंग का हांथ अब तक सामने आया है पुलिस सूत्रों के मुताबिक. अभी हाल ही में 2-3 सितम्बर(2018) की देर रात पनहाई स्टेशन के पास गंगा कावेरी एक्सप्रेस ट्रेन लूट कांड की वारदात को भी लूलू पटेल के गैंग ने अंजाम दिया था. घटना के 10 दिन बाद जब जीआरपी आरपीएफ व् पुलिस की सयुंक्त टीमों ने वारदात का खुलासा किया तो आधा दर्जन लुटेरे इस गैंग के मय असलहों व् लूटे गए माल के साथ गिरफ्तार किए गए. जबकि गैंग सरगना लूलू पटेल अपने अन्य साथियों के साथ फरार चल रहा है.


ददुआ गैंग के कुख्यात राजू कोल का शागिर्द रहा है"लूलू पटेल"

सरगना लूलू पटेल खूंखार ददुआ गैंग के कुख्यात डकैत राजू कोल का शागिर्द रहा है. राजू कोल ने सन 2007 में पनहाई व् डभौरा(इलाहाबाद मानिकपुर रेलखण्ड) स्टेशन के बीच मुंबई जाने वाली कामायनी एक्सप्रेस ट्रेन में चेन पुलिंग करवाते हुए डकैती डाली थी. वारदात में वातानुकूलित(एसी) बोगियों को निशाना बनाया गया था. इस कांड में उस समय एक एक विदेशी युवती(रेल यात्री) की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी डकैतों द्वारा जब उसने विरोध करने का प्रयास किया. इस पूरी वारदात में लूलू पटेल की महत्वपूर्ण भूमिका सामने आई थी. घटना के बाद पुलिस ने लूलू को गिरफ्तार भी किया लेकिन उस समय उसके नाबालिग होने की वजह से वह जल्द सलाखों से बाहर आ गया. सन 2010 में राजू कोल के गैंगवार में मारे जाने के बाद उसके शागिर्द लूलू पटेल ने अपना अलग गैंग बना लिया और ट्रेनों में लूट की वारदात को अंजाम देने लगा. लूलू गैंग की सेटिंग सिस्टम के अंदर तक भी है. इस राज का खुलासा तब हुआ जब अभी हाल ही में गंगा कावेरी एक्सप्रेस ट्रेन लूट कांड में रेल कर्मचारी की संलिप्तता उजागर हुई. प्वाइंट्स मैन के पद पर कार्यरत रेल कर्मचारी फरार चल रहा है और पुलिस उसकी तलाश में है. लूलू पटेल पर जीआरपी मानिकपुर में दर्जन भर से अधिक मुकदमें दर्ज हैं.

एलर्ट हुई खाकी

पिछले कुछ महीनों के दौरान मालगाड़ी व् एक्सप्रेस ट्रेनों को बदमाशों द्वारा निशाने पर लिए जाने के बाद जीआरपी आरपीएफ व् स्थानीय पुलिस एलर्ट हो गई है. जनपद के संवेदनशील शिवरामपुर मानिकपुर खोह भरतकूप क्षेत्र में जीआरपी व् पुलिस की गश्त बढ़ा दी गई है. गंगा कावेरी एक्सप्रेस में वारदात के बाद सुरक्षा व्यवस्था का खाका खींचते हुए जीआरपी को टाइट किया गया है. आईजी जीआरपी बीआर मीणा के मुताबिक दस्यु प्रभावित रेलखण्डों व् स्टेशनों पर जीआरपी जवानों की तैनाती की जाएगी व् लापरवाही बरतने पर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई भी होगी. गैंग सरगना लूलू पटेल पर 50 हजार का इनाम बढ़ाने का प्रस्ताव शासन को भेजा गया है.

 

Ad Block is Banned