अब दसवीं के बाद ही देख सकेंगे सीए बनने का सपना

चार्टर्ड एकाउन्टेन्ट (सीए) जैसे क्षेत्र में जानेे के लिए भी अब डॉक्टर व इंजीनियरिंग शिक्षा की तरह दसवीं-ग्यारहवी बाद ही तैयारी होने लगी है। कभी दसवीं के टॉपर की पसंद साइंस होती थी लेकिन सीए पेशे ने वाणिज्य शिक्षा को भी प्रतिभाओं की पसंद बनाया है। कक्षा 10 व 12 में 95 प्रतिशत या उससे अधिक अंक पाने वाले कई छात्र भी सीए प्रोफेशन में जाने के लिए पंजीयन कराने लगे है।

By: Nilesh Kumar Kathed

Published: 01 Jul 2020, 05:13 PM IST

चित्तौडग़ढ़. चार्टर्ड एकाउन्टेन्ट (सीए) जैसे क्षेत्र में जानेे के लिए भी अब डॉक्टर व इंजीनियरिंग शिक्षा की तरह दसवीं-ग्यारहवी बाद ही तैयारी होने लगी है। कभी दसवीं के टॉपर की पसंद साइंस होती थी लेकिन सीए पेशे ने वाणिज्य शिक्षा को भी प्रतिभाओं की पसंद बनाया है। कक्षा 10 व 12 में 95 प्रतिशत या उससे अधिक अंक पाने वाले कई छात्र भी सीए प्रोफेशन में जाने के लिए आईसीएआई में पंजीयन कराने लगे है। सीए बनने का सपना देखनेे वालों के लिए विद्यार्थियों को अब सीए फाउण्डेशन की परीक्षा देेने के लिए कक्षा 12 के बाद छह माह निकलने का इंतजार नहीं करना पड़ेगा। आईसीएआई के प्रस्तावित नियमों में वे इससे पहले ही रजिस्ट्रेशन कराने के साथ फाउण्डेशन की परीक्षा देने का मौैका तक पा जाएंगे। इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड एकाउन्टेन्ट ऑफ इंडिया के प्रस्तावित नए नियम के आधार पर 10वींं के बाद ही विद्यार्थी सीए कोर्स के लिए रजिस्ट्रेशन करा सकेंगे। कक्षा १२ की परीक्षा के तुरंत बाद वो सीए फाउण्डेशन की परीक्षा दे सकेंगे। वर्तमान में कक्षा 12की परीक्षा के करीब छह माह सीए फाउण्डेशन की परीक्षा दे सकते है।
अब कक्षा 11 से शुरू कर सकते तैयारी
सीए परीक्षाओं के लिए कोचिंग प्रदान करने वाले एलटूसी-एनपीए भीलवाड़ा के संचालक प्रदीप लाठी व सुनीत नैनावटी के अनुसार नए प्रस्तावित परिवर्र्तन से छात्र अब कक्षा ११ व १२ में ही सीए फाउण्डेशन की तैयारी कर सकते है। नए बदलाव को सीए परीक्षा कमेटी अप्रूव कर चुकी है। इसे केवल कानूनी रूप प्रदान करना है। अब नीट, जेईई जैसी परीक्षाओं की तरह सीए के लिए भी तैयारी करनी होगी। उन्होंने बताया कि जो विद्यार्थी वर्तमान में कक्षा १२ में है वो रोज दो घंटे की ऑनलाइन क्लासेज के जरिये मई २०२१ की परीक्षा के लिए तैयारी कर सकते है। इसके बैच एक जुलाई से शुरू हो रहे है।
नहीं करना पड़ेगा रजिस्टे्रशन के लिए इंतजार
प्रस्तावित नियमों के कानून बनने पर विद्यार्थियों को अब कक्षा १२ के बाद आईसीएआई में रजिस्ट्रेशन कराने का इंतजार नहीं करना पड़ेगा। अब कक्षा १० में ही रजिस्ट्रेशन होने से कक्षा ११ से ही फाउण्डेशन की तैयारी शुरू की जा सकेगी। कक्षा १२ की बोर्ड परीक्षा सामान्यतया फरवरी-मार्र्च में और फाउण्डेशन परीक्षा मर्ई में होती है। ऐसे में दो-तीन माह में परीक्षा तैयारी मुश्किल होती है। अब रजिस्ट्रेशन पहले होने से इसके लिए पर्याप्त समय मिल जाएगा।

Nilesh Kumar Kathed Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned