झुलसे श्रमिक ने तोड़ा दम, कोर्ट ने खारिज कर दिया इन अधिकारियों की अग्रिम जमानत का आवेदन

झुलसे श्रमिक ने तोड़ा दम, कोर्ट ने खारिज कर दिया इन अधिकारियों की अग्रिम जमानत का आवेदन
झुलसे श्रमिक ने तोड़ा दम, कोर्ट ने खारिज कर दिया इन अधिकारियों की अग्रिम जमानत का आवेदन,झुलसे श्रमिक ने तोड़ा दम, कोर्ट ने खारिज कर दिया इन अधिकारियों की अग्रिम जमानत का आवेदन,झुलसे श्रमिक ने तोड़ा दम, कोर्ट ने खारिज कर दिया इन अधिकारियों की अग्रिम जमानत का आवेदन,झुलसे श्रमिक ने तोड़ा दम, कोर्ट ने खारिज कर दिया इन अधिकारियों की अग्रिम जमानत का आवेदन,झुलसे श्रमिक ने तोड़ा दम, कोर्ट ने खारिज कर दिया इन अधिकारियों की अग्रिम जमानत का आवेदन

Jitender Saran | Updated: 09 Oct 2019, 11:30:01 PM (IST) Chittorgarh, Chittorgarh, Rajasthan, India

उप नगरीय बस्ती चंदेरिया स्थित बिरला सीमेंट में ग्यारह दिन पहले कोल पाउडर गिरने से झुलसे पन्द्रह श्रमिकों में से एक की बुधवार को अहमदाबाद के अपोलो अस्पताल में उपचार के दौरान मृत्यु हो गई। इधर इस मामले में बिरला सीमेंट के पांच अधिकारियों की अग्रिम जमानत का आवेदन भी बुधवार को जिला एवं सत्र न्यायालय ने खारिज कर दिया।

चित्तौडग़ढ़ पुलिस उप अधीक्षक गंगरार एवं अनुसंधान अधिकारी वृद्धिचंद गुर्जर ने बताया कि हादसे में झुलसे बिजयपुर क्षेत्र के गोसिया निवासी सांवरसिंह (३२) पुत्र गोकुलसिंह देवड़ा की बुधवार को अहमदाबाद के अपोलो अस्पताल में उपचार के दौरान मृत्यु हो गई। सूचना मिलने पर चंदेरिया थाने से सहायक उप निरीक्षक विमल कुमार व हेड कांस्टेबल गोविन्दसिंह को अहमदाबाद के लिए रवाना किया गया है, जो गुरूवार को शव का पोस्टमार्टम करवाएंगे। इधर पूर्व विधायक सुरेन्द्रसिंह जाड़ावत ने बताया कि श्रमिक की मृत्यु की सूचना मिलने पर सीएमओ के प्रमुख शासन सचिव कुलदीप रांका को जानकारी दी गई। रांका ने बिरला सीमेंट के कोलकात्ता कार्यालय में सीईओ घोष से बातचीत की। इसके बाद बिरला सीमेंट की ओर से मृतक के परिजनों को कुल बीस लाख रूपए की सहायता देने की बात कही। इसमें से पांच लाख रूपए पहले दिए जा चुके हैं। पूर्व विधायक ने मृतक के एक आश्रित को बिरला सीमेंट में नौकरी देने की भी मांग की है। जिस पर बिरला सीमेंट के उच्च प्रबंधन ने विचार-विमर्श शुरू कर दिया है। पुलिस उप अधीक्षक गुर्जर ने बताया कि श्रमिक के उपचार के दौरान दम तोडऩे के बाद इस मामले में आपराधिक मानव वध की धारा ३०४ भी जोड़ दी गई है।
अग्रिम जमानत का आवेदन खारिज
इधर इस मामले में पुलिस की ओर से आरोपी बनाए गए बिरला सीमेंट के यूनिट हेड राजेश कक्कड़, वाइस प्रेसीडेंट प्रोडक्शन दिनेश कुमार, सीनियर वाइस प्रेसीडेंट राजीव भल्ला, शिफ्ट इंचार्ज प्रकाश शर्मा व एचआर हेड सत्यनारायण साहू की ओर से पेश किए गए अग्रिम जमानत का आवेदन जिला एवं सत्र न्यायालय ने बुधवार को खारिज कर दिया। इसके बाद पुलिस ने इनकी गिरफ्तारी के प्रयास शुरू कर दिए है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned