हमले के विरोध में चूरू-राजलदेसर बंद

हमले के विरोध में चूरू-राजलदेसर बंद

Rakesh Kumar Goutam | Publish: Sep, 03 2018 11:16:44 AM (IST) Churu, Rajasthan, India

फतेहपुर में कावडिय़ों पर हमले की घटना का विरोध

चूरू.

संतों, विश्व हिन्दू परिषद व बजरंग दल के आह्वान पर रविवार को शहर के बाजार बंद रहे।
बंद के दौरान शहर के बाजारों में आवागमन कम रहा। मोचीवाड़ा, सुभाष चौक,गढ़ चौराहा, शास्त्री मार्केट सहित अन्य क्षेत्रों में अधिकांश प्रतिष्ठान बंद रहने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। इस दौरान एहतियात के तौर पर बाजारों में पुलिस जाप्ता तैनात रहा। विहिप के प्रखंड अध्यक्ष महेशकुमार मिश्र ने बताया कि फतेहपुर में कावडिय़ों पर हमले व निर्दोष लोगों पर पुलिस लाठीचार्ज के दोषियों पर कार्रवाईकी मांग को लेकर आयोजित बंद को धार्मिक व व्यापारिक संगठनों ने समर्थन दिया। भानीनाथ आश्रम के संत महंत देवनाथ के सान्निध्य में कार्यकर्ताओं ने बाजार में अनेक दुकानदारों को पुष्पगुच्छ भेंटकर दुकान बंद करवाई। इस दौरान शास्त्री मार्केट व्यापार मंडल अध्यक्ष रामचंद्र तूनवाल के अलावा लव कुमार कालिया, योगेश शर्मा, कमल सोनी, दिनेश शर्मा, सुरेश प्रजापत, जाकिर खां, सुरेंद्र पीपलवा, दीपक सैनी, विनोद प्रजापत व सुभाष महर्षि आदि
मौजूद थे।

 

निकाली आक्रोश रैली

राजलदेसर. फतेहपुर में कावडिय़ों पर हुए हमले के विरोध में यहां के व्यापार मंडल, बजरंग दल व कावड़ संघ के आह्वान पर रविवार को राजलदेसर के सभी बाजार बंद रहे। चाय-पान व सब्जी व दवा दुकाने तक बंद रही। बजरंगदल के प्रखण्ड संयोजक हेमन्त शर्मा , व्यापार मंडल अध्यक्ष नन्दलाल सैनी, कावड़ संघ के राधेश्याम चौधरी, खेमचन्द बाडिय़ा, संत सूरजीतनाथ, जगदीश पुरोहित के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने सुभाष चौक से आक्रोश रैली निकाली। रैली में कार्यकर्ता बोल बम ताड़क बम, हिन्दुस्तान जिन्दाबाद, वन्दे मातरम आदि के नारे लगाते हुए चल रहे थे। रैली मुख्य बाजार, आथुणा चौक, मालासीबास, गांधी चौक, फे्रण्डस सोसायटी मार्ग होते हुए उप तहसील कार्यालय पहुंची।
जहां कार्यकर्ताओं ने तहसीलदार गोकुलदान चारण को उपखंड अधिकारी के नाम का ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में कावडिय़ों पर फतेहपुर में हुए हमले के सभी नामजद आरोपियों को गिरफ्तार करने तथा लाठी चार्ज व दुव्र्यवहार करने वाले संबंधित अधिकारियों एवं पुलिस कर्मियों की उच्च स्तरीय जांच करवाने की मांग की। तहसीलदार चारण ने कार्यकर्ताओं को आश्वस्त किया कि उनकी भावना उच्च स्तर तक पहुंचा दी जाएगी। आक्रोश रैली में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए रतनगढ़ डीएसपी नारायणदान चारण, सीआई राणीदान, एसएचओ मलकीयतसिंह मय पुलिस जाप्ते व आरएसी के जवान तैनात थे। थानाधिकारी मलकीयतसिंह ने कार्यकर्ताओं को बाइक चलाते समय हेलमेट लगाने की शपथ दिलवाई।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned